ज्‍यादा पपीता खाने से हो सकते हैं ये साइड इफेक्‍ट...

Side Effects Of Papayas: ज्यादातर हेल्‍थ एक्सपर्ट गर्भवती महिलाओं को पपीता खाने से बचने की सलाह देते हैं, क्योंकि पपीते के बीज और जड़ भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकते हैं.

एनडीटीवी फूड  |  Updated: May 28, 2019 16:03 IST

Reddit
6 Side Effects Of Papayas You Should Know | papita ke fayde aur nuksan in hindi

Side Effects Of Papayas in Hindi: चाहे आप सलाद में खाएं या फिर जूस के रूप में, पपीता सेहत के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है. यह लो कैलरी फ्रूट कई तरह के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ देता है. डीके पब्लिशिंग की किताब हीलिंग फूड्स के मुताबिक, पपीते को उसके यह जीवाणुरोधी गुण के लिए जाना जाता है, यह पाचन क्षमता को बढ़ावा देता है. इस फल के लगभग हर हिस्से का उपयोग किया जा सकता है. यह एंटीऑक्सीडेंट कैरोटीनोइड जैसे कि बीटा-कैरोटीन का एक अच्छा स्रोत है. बीटा-कैरोटीन हमारी नजर की रक्षा करता है. इसके अलावा, पपीते के पत्तों को डेंगू बुखार में भी काफी प्रभावी होते हैं. पपीता लंबे समय से मीट टेंडरिज़र के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है. फाइबर से भरपूर पपीता कब्ज जैसी समस्‍याओं से भी छुटकारा दिलाता है. जहां एक ओर नारंगी रंग का यह फल अपने कई गुणों के लिए जाना जाता है वहीं अगर इसे अधिक मात्रा में खाया जाए तो इसके साइड इफेक्‍ट भी होते हैं. इस ऑलराउंडर फ्रूट के कुछ महत्वपूर्ण दुष्प्रभाव भी हैं, जिन्‍हें जानना आपके लिए जरूरी है. 



पपीता खाने के नुकसान | 6 Side Effects Of Papayas 

1. गर्भवती महिलाओं के लिए है हानिकारक (Papaya in Pregnancy)
ज्यादातर हेल्‍थ एक्सपर्ट गर्भवती महिलाओं को पपीता खाने से बचने की सलाह देते हैं, क्योंकि पपीते के बीज और जड़ भ्रूण को नुकसान पहुंचा सकते हैं. पपीते में लेटेक्स की हाई मात्रा होती है जो गर्भाशय सिकुड़न का कारण बन सकती है. पपीते में मौजूद पपेन शरीर की उस झिल्ली को नुकसान पहुंचा सकता है जो भ्रूण के विकास के लिए आवश्यक है.



pregnant

2. पाचन मुद्दों का कारण बन सकता है (Papaya and Digestion)
पपीते में भारी मात्रा में फाइबर पाया जाता है. कब्‍ज होने पर ये आपको फायदा दे सकता है. लेकिन ये आपका पेट खराब भी कर सकता है. इसके अलावा, पपीते की बाहरी त्वचा में लेटेक्स होता है, जो पेट को अपसेट कर सकता है और पेट दर्द का कारण भी बन सकता है.



3. कम हो सकता है ब्‍लड शुगर (Papaya and Diabetic)
पपीता ब्‍लड शुगर के लेवल को कम कर सकता है, जो डायबिटीज रोगियों के लिए खतरनाक हो सकता है. ऐसे में अगर आप मधुमेह के रोगी हैं, तो डॉक्टर से परामर्श करना हमेशा सर्वोत्तम रहेगा.

dp9992jo

4. एजर्ली होने की है संभावना 
पपीते में मौजूद पपेन से एलर्जी होने की संभावना होती है. इसके अधिक सेवन से रिएक्‍शन के तौर पर सूजन, चक्कर आना, सिरदर्द, चकत्ते और खुजली जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं.

Benefits of Cloves: लौंग के फायदे, ये 5 परेशानियां होंगी दूर

5. हो सकता है श्वसन विकार
पपीता में मौजूद एंजाइम पपेन को संभावित एलर्जी भी कहा जाता है. अत्यधिक मात्रा में पपीते का सेवन अस्थमा, कंजेशन और जोर जोर से सांस लेना जैसी विभिन्न श्वसन संबंधी विकार पैदा कर सकता है.

स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं से बचने के लिए बेहतर होगा कि आप अधिक मात्रा में पपीते के सेवन से बचें. अगर आपको कोई बीमारी है, तो डॉक्‍टर से सलाह जरूर लें. आहार में किसी भी तरह के बदलाव से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें. डॉक्टर की सलाह के अनुसार ही अपने आहार में बदलाव करें.

और खबरों के लिए क्लिक करें.





एक दिन में कितने गिलास पानी पीना चाहिए? नियमित रूप से कितना पानी आपके लिए है जरूरी,जानें



खांसी की अचूक दवा साबित होंगे खांसी के ये 10 घरेलू उपाय

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement