सर्दियों में जरूर खाएं आंवला मुरब्बा, घर पर मुरब्बा बनाने के लिए देखें इसकी रेसिपी

आंवला के बारे में यह सही कहा गया है कि "एक आंवले के अनेक फायेद" आंवला एक चमत्कारिक फल है जो आयुर्वेद में भी गर्व का स्थान रखता है.

Edited by: Payal  |  Updated: November 05, 2019 13:02 IST

Reddit
Amazing Amla Murabba Benefits:  How to make this Sweet Relish at home
Highlights
  • आंवला एक चमत्कारिक फल है.
  • यह हल्के हरे रंग का होता है और इसका स्वाद भी असामान्य होता है.
  • यह पोषक तत्वों का एक पावरहाउस है.

आंवला के बारे में यह सही कहा गया है कि "एक आंवले के अनेक फायेद" आंवला एक चमत्कारिक फल है जो आयुर्वेद में भी गर्व का स्थान रखता है. यह हल्के हरे रंग का होता है और इसका स्वाद भी असामान्य होता है. इसे शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने जैसे कई स्वास्थ्य लाभों के लिए जाना जाता है. इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि भारतीय घरों में एक आम उपाय है. यह पोषक तत्वों का एक पावरहाउस है - पॉलीफेनोल, विटामिन सी, विटामिन ए, कैल्शियम, मैग्नीशियम होता है. आंवले का उपयोग सबसे अधिक मुरब्बा बनाने में किया जाता है, जिसका  मीठा और मसालेदार स्वाद होता है. आंवला मुरब्बा की रेसिपी के बारे में हम आगे बात करेंगे, मगर हम इससे पहले जानेंगे आंवला मुरब्बा से होने वाले फायदों के बारे में:



Cooking Tips: घर पर कैसे बनाएं रेस्टोरेंट स्टाइल चिकन शामी कबाब, वीडियो देखें


यहां देखें आंवला मुरब्बे से होने वाले लाभ:


पाचन लाभ

फाइबर में उच्च होने के कारण, डॉक्टर पाचन और गैस्ट्रिक समस्याओं के लिए आंवला मुरब्बा की सलाह देते हैं, जिसमें गैस्ट्रिटिस भी शामिल है. यह चीनी और शहद के साथ मिश्रित होने पर कब्ज के लिए एक उपाय के रूप में प्रयोग किया जाता है. यह आपके पेट को स्वस्थ रखने के लिए बहुत महत्वपूर्ण है क्योंकि ज्यादातर परेशानियां या बीमारियां पेट की परेशानियों की वजह से होती हैं.


खनिजों का अच्छा स्रोत

आंवला क्रोमियम, जिंक, कॉपर, आयरन और अन्य जैसे खनिजों में समृद्ध है. आयुर्वेदिक विशेषज्ञ इन खनिजों को शरीर में प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण मानते हैं. क्रोमियम, विशेष रूप से, रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर की देखरेख करने में मदद करने के लिए जाना जाता है, और इसी तरह हार्वर्ड हेल्थ पब्लिकेशंस के अनुसार, हृदय रोग के जोखिम को कम कर सकता है.


गर्भावस्था में मदद करता है

ऐसा माना जाता है कि गर्भावस्था के समय सीमा के दौरान मां को आंवला मुरब्बा खाना चाहिए. जैसाकि इसे मां और बच्चे दोनों के लिए स्वस्थ माना जाता है और मां के शरीर में हार्मोनल परिवर्तन के कारण बालों के झड़ने को रोकने में मदद करता है.


कब्ज

स्वादिष्ट होने के अलावा, आंवला मुरब्बा कब्ज और पुरानी कब्ज से राहत दिलाने में मदद करता है, बशर्ते इसे एक गिलास दूध के साथ लिया जाए. इसके अतिरिक्त, कब्ज से राहत पाने के लिए रात को गुनगुने पानी के साथ 1 चम्मच आंवला पाउडर लें. 


आंवला मुरब्बा बनाने के लिए यहां देखें:

आंवला मुरब्बा की सामग्री

1 kg आंवला
2 टी स्पून केमिकल लाइम
1 ½ kg चीनी
6 कप पानी
1 टेबल स्पून नींबू का रस

तरीका:

आंवला में फोर्क से छेद कर लें. एक नींबू को पानी में घोल लें और आंवला को सारी रात के लिए उसमें भिगो दें.
अच्छे से धोए. एक बार दोबारा धोए.
अच्छी से तरह से पानी से धो लें.
निचोड़ लें और बचा हुआ नींबू का रस निचुड़ने दें.
पानी उबालें और इसमें आंवला डालें.
इन्हें नरम होने तक पकाएं.
पानी निकालकर इन्हें एक तरफ रख दें.
अब चीनी, नींबू का रस और छह कप पानी मिलाएं. चाशनी के रूप में तैयार कर लें.
ध्यान रहे, आपका मिक्सचर एक तार छोड़ने जैसा हो.
इसमें आंवला डालें, उबाल आने दें और धीमी आंच पर 4 से 5 मिनट पकने दें.
ठंडा होने के बाद इसे टाइट डब्बे में भर कर रखें.
आप इसमें इलायची या अपनी पसंदीदा स्वाद देने वाली सामग्री भी डाल सकते हैं.
 

High-Protein Diet: स्वाद और सेहत में भरपूर हैं यह हेल्दी राजमा चाट, रेसिपी देखें
 

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement