Chhath Puja Special: जानें कब है छठ पूजा की तिथि, नहाय-खाय, पूजा सामग्री और स्पेशल रेसिपी

Chhath Puja Special: छठ को उत्तर प्रदेश, झारखंड और बिहार में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है. छठ पर भगवान सूर्य और उनकी बहन, 'छठी मैया' की भी पूजा की जाती है.

   |  Updated: November 11, 2020 12:25 IST

Reddit
Chhath Puja Special: Date, Time, Significance And Importance, How To Make Thekua Traditional Recipes For Chhath

Chhath Puja Special: छठ पर्व की शुरूआत नहाय खाय के साथ की जाती है.

Highlights
  • छठ में कद्दू की सब्जी सबसे लोकप्रिय सब्जी मानी जाती है.
  • ठेकुआ को खजुरिया या थिकारी के नाम से भी जाना जाता है.
  • छठ पूजा में पूरी को गेहूं के आटे और शुद्ध देशी घी में तला जाता है.

Chhath Puja Special: इस साल छठ पूजा का महापर्व (November) 20 नवंबर को है. कार्तिक शुक्ल चतुर्थी से शुरू होकर यानि 18 नवंबर से 20 नवंबर तक छठ का महापर्व मनाया जाता है. छठ पर भगवान सूर्य और उनकी बहन, 'छठी मैया' की भी पूजा की जाती है. छठ को उत्तर प्रदेश, झारखंड और बिहार में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है. छठ पर्व की शुरूआत नहाय खाय के साथ की जाती है. इसमें सूर्य भगवान की विशेष उपासना की जाती है. इसमें उगते और डूबते सूर्य की पूजा की जाती है. छठ का व्रत काफी कठिन माना जाता है, इशके व्रत के कुछ नियम है. इस बार छठ पूजा की शुरुआत रवियोग से हो रही है. नहाय खाय रवियोग में हो रहा है. इसके साथ ही सूर्य भगवान को अर्घ्य द्विपुष्कर योग में दिया जाएगा. छठ पूजा में बहुत सारे पकवान पनाएं जाते हैं. माना जाता हैं कि छठ की पूजा करने से भगवान सूर्य उनकी हर मनोकामना पूरी करते हैं. तो चलिए आज हम आपको छठ पर बनने वाली कुछ रेसिपी और छठ पूजा की सामग्री के बारे में बताते है.

Newsbeep

छठ पूजा स्पेशल रेसिपीः

Sunflower Seeds: औषधीय गुणों से भरपूर हैं सूरजमुखी के बीज, जानें के 5 अद्भुत लाभ!

thekua

छठ पर भगवान सूर्य और उनकी बहन, 'छठी मैया' की भी पूजा की जाती है.  

1. ठेकुआः

ठेकुआ को खजुरिया या थिकारी के नाम से भी जाना जाता है. इसे विशेष रूप से छठ पूजा के समय बिहार, मध्य प्रदेश, झारखंड और पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रों में ज्यादा बनाया जाता है. थेकुआ को बनाना थोड़ा कठिन होता है. ठेकुआ को वनस्पति तेलों, घी, मेवे और गेहूं के भूने आटे के साथ बनाया जाता है. 

ठेकुआ बनाने की सामग्रीः

गेहूं का आटा- 3 कप
गुड़ - 4/4 कप 
नारियल - 1/4  कप कद्दूकस किया हुआ
घी - तलने के लिए
इलायची - 6

ठेकुआ बनाने की विधिः

ठेकुआ बनाने के लिए सबसे पहले गुड़ को छोटे-छोटे टुकड़ों में तोड़ लें. 

इसके बाद गुड़ के टुकड़े को आधा कप पानी को एक भगोने में डाल कर गरम करें, 

पानी में उबाल आने पर चमचे से चला कर देखिये कि सारा गुड़ पानी में अच्छे से घुल जाए.

गुड़ पानी में घुल जाने के बाद इस घोल को छलनी से छान लें. 

गुड़ को पानी में घी मिलाकर इसे थोडा़ ठंडा होने के लिए रख दें.

एक बर्तन में आटा निकाल लें, इलायची और कद्दूकस किया हुआ नारियल डालें.

गुड़ के घोल की सहायता से एकदम सख्त और सूखा आटा गूंथ कर तैयार करें. 

कढ़ाई में घी डालकर गर्म करें. आटे की लोइया बना लें. और अब एक-एक लोई को ठेकुए के सांचे की मदद से तैयार कर लें.

सारे आटे से ठेकुआ बना लेने के बाद इन्हें मीडिय़म गर्म घी में डालकर तल लें. 

ठेकुआ बनकर तैयार है.

फेमस गाने सेकेंड हैंड जवानी को अपनी आवाज देने वाली म‍िस पूजा खुद को कैसे रखती हैं फिट, जानें उनकी डाइट के बारे में. फ़ूड वीडियो के लिए NDTV ज़ायका सब्सक्राइब करें



2. पूरीः

छठ पूजा में पूरी को गेहूं के आटे और शुद्ध देशी घी में तला जाता है. पूरी को अलग-अलग सब्ज़ियों के साथ खाया जाता है. जैसे कद्दू की सब्जी और हारा चना आदि.

3. कद्दू की सब्जीः

छठ में कद्दू की सब्जी सबसे लोकप्रिय सब्जी मानी जाती है. कद्दू की सब्जी को सेंधा नमक और धी के साथ बनाया जाता है. माना जाता है कि छठ का व्रत पूरा करने के बाद व्रत करने वाले यही सब्जी का सेवन करते हैं.

4. हरा चनाः

छठ में बनाया जानें वाला एक और व्यंजन हरा चना हैं. इसे रात भर पानी में भिगो कर फिर अगले दिन घी, जीरा और हरी मिर्च के साथ फ्राई किया जाता है. छठ पूजा में इसे विशेष रूप से तैयार किया जाता है. 

5. गुड़ की खीरः

छठ के पर्व में गुड़ की खीर का अलग ही महत्व होता हैं. इसे चावल, दूध और गुड़ के साथ बनाया जाता है. लेकिन इसको सबसे पहले सूर्य देवता को अर्पित किया जाता है. उसके बाद ही इसका सेवन किया जाता है.

छठ पूजा की सामग्रीः

प्रसाद रखने के लिए बांस की दो तीन बड़ी टोकरी, बांस या पीतल के बने तीन सूप, लोटा, थाली, दूध और जल के लिए ग्लास, नए वस्त्र साड़ी-कुर्ता पजामा, चावल, लाल सिंदूर, धूप और बड़ा दीपक, पानी वाला नारियल, गन्ना जिसमें पत्ता लगा हो, सुथनी और शकरकंदी, हल्दी और अदरक का पौधा, नाशपाती और बड़ा वाला मीठा नींबू, जिसे टाब भी कहते हैं, शहद की डिब्बी, पान और साबुत सुपारी, कैराव, कपूर, कुमकुम, चन्दन, ठेकुआ और कई तरह की मिठाई.

छठ पूजा का शुभ मुहूर्तः

छठ पूजा सूर्योदय – 06 बजकर 48 मिनट तक.

छठ पूजा सूर्यास्त – 5:26 तक

षष्ठी तिथि आरंभ – 9:58  (नवंबर 19) 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहें

Indian Cooking Tips: घर पर आसानी से बनाएं क्रिस्पी और क्रंची मूंग, उड़द दाल पापड़, यहां जानें विधि

Diwali Snack Recipe: दिवाली पर कैसे बनाएं टेस्टी और टैंगी अचारी पनीर टिक्का? यहां देखें वीडियो

इस दिवाली जरूर ट्राई करें स्पेशल पान के लड्डू, यहां देखें रेसिपी वीडियो

Winter Skin Care Tips: सर्दियों में स्किन को टैन होने से बचाने के लिए, इन तीन चीजों का करें इस्तेमाल

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Home Remedies: कोलेस्ट्रॉल को कंट्रोल करने के लिए अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय

Gym Diet Plan: जिम जाने के बाद डाइट में किन चीजों को करें शामिल? यहां जानें 8 डाइट टिप्स

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement