Diabetes Diet: बाजरे की खिचड़ी से करें ब्लड शुगर को कंट्रोल, पढ़ें रेसिपी और बाजरे के फायदे

Diabetes Diet Tips: डायबिटीज के कुछ सामान्य लक्षणों (Common Symptoms Of Diabetes) में प्यास का बढ़ना, बार-बार पेशाब आना, भूख लगना, थकान आदि शामिल हैं.

एनडीटीवी फूड डेस्क  |  Updated: June 25, 2019 17:21 IST

Reddit
Diabetes Diet: Bajre Ki Khichdi Benefits And Recipe To Regulate Blood Sugar | madhumeh mein kya khana chahiye | diabetes me kya khaye

Diabetes Diet: डायबिटीज में डाइट लेते समय इसमें फाइबर को भरपूर जगह दें.

Highlights
  • Diabetes Diet: खिचड़ी मधुमेह रोगियों के लिए अच्छा आहार है.
  • बाजरे की खास बात ये भी है कि ये आसानी से पच जाता है.
  • बाजरे के डाइट में इस्तेमाल से मधुमेह का खतरा भी कम होता है.

Bajre Ki Khichdi Benefits And Recipe To Regulate Blood Sugar: डायबिटीज या मधुमेह एक ऐसी स्थिति है, जब शरीर में रक्त शर्करा यानी ब्लड शुगर का स्तर लगातार दो कारणों से बढ़ने लगता है - अग्न्याशय पर्याप्त इंसुलिन का उत्पादन नहीं करता है या शरीर इंसुलिन को प्रभावी ढंग से इस्तेमाल करने में सक्षम नहीं होता. इन्हें क्रमशः टाइप 1 मधुमेह (Type 1 Diabetes ) और टाइप 2 मधुमेह (Type 2 diabetes) के रूप में जाना जाता है. डायबिटीज के कुछ सामान्य लक्षणों (Common Symptoms Of Diabetes) में प्यास का बढ़ना, बार-बार पेशाब आना, भूख लगना, थकान आदि शामिल हैं. मधुमेह के रोगियों (Diabetics) को रक्त शर्करा (Blood Sugar) के स्तर में किसी भी तरह के स्पाइक्स से बचने के लिए क्या खाएं, इस बारे में बहुत सावधानी बरतने की जरूरत है. यह जानना जरूरी है कि आप डायबिटीज (Diabetes Diet) में क्या खाएं और क्या न खाएं. यही वजह है कि मधुमेह रोगियों को प्रोसेस्ड और जंक फूड से दूर रहने की सलाह दी जाती है और इसके बजाय अधिक खाद्य पदार्थ और पेय शामिल किए जाते हैं, जो रक्त में ग्लूकोज या चीनी की रिहाई को नियंत्रित कर सकते हैं और साबुत अनाज (whole grains) एक ऐसे खाद्य पदार्थों की श्रेणी है जो मधुमेह रोगियों (Diabetics) के लिए स्वस्थ माने जाते हैं.



Whole Grains in the Diabetes Diet: साबुत अनाज फाइबर से भरपूर होते हैं और विटामिन और खनिज जैसे लाभकारी सूक्ष्म पोषक तत्व होते हैं और इसलिए मधुमेह के आहार के लिए आदर्श होते हैं. भारतीय रसोई में बहुत सारे साबुत अनाज इस्तेमाल किए जाते हैं. एक लोकप्रिय साबुत अनाज जिसे भारतीय हमेशा इस्तेमाल करते हैं, वह है बाजरा, जो बाजरा के परिवार से संबंधित है. तकनीकी रूप से कहा जाए तो बाजरा घास है, लेकिन दुनिया के कुछ हिस्सों में खाद्यान्न के रूप में इसका सेवन किया जाता है और इसे पाक संस्कृतियों में भी जाना जाता है. भारत में, बाजरे के पूर्व-ऐतिहासिक काल से क्षेत्रीय व्यंजनों का एक बेशकीमती हिस्सा रहा है, जो पोषण संबंधी बिजलीघर को सक्रिय करने के कारण है.



बाजरे का पौषणिक मूल्य यानी न्यूट्रिशनल वेल्यू, प्रति 100 ग्राम में -  (Nutritional Values Of Bajra) 

ऊर्जा (Energy): 361 Kcal
कार्बोहाड्रेट्स (Carbohydrates): 67gms
प्रोटीन (Protein): 12gms
फैट (Fat): 5gms 
मिनरल्स (Minerals): 2gm
फाइबर (Fibre): 1gm
कैल्शियम (Calcium):  42gms
फासफोरस (Phosphorus): 296 gms
आयरन सा लौह तत्व (Iron): 8mg
 

cd39cs6oDiabetes Diet Management: डायबिटीज में फाइबर से भरपूर आहार लेना चाहिए. 



डायबिटीज में किसी घरेलू नुस्खे से कम नहीं है बाजर  

बाजरे में मौजूद पोषक तत्वों को अगर आप गिनने बैठ जाएंगे तो आपको हैरानी ही होगी, क्योंकि इसके अंदर आपके शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए ढेर सारे पोषक तत्व मौजूद हैं. बाजरे के अंदर मैग्नीशियम, कैल्शियम, मैग्नीज, ट्रिप्टोफेन, फास्फोरस, फाइबर, विटामिन बी और एंटीआक्सीडेंट होते हैं. बाजरे की खास बात ये भी है कि ये आसानी से पच जाता है और आपके मष्तिष्क को भी स्वस्थ्य रखता है. हार्ट अटैक और सिरदर्द से भी ये आपको दूर रखता है. इसके अंदर मौजूद विटामिन बी 3 शरीर में मौजूद कोलेस्ट्रॉल की मात्रा को भी कम करने में मदद करता है. बाजरे के डाइट में इस्तेमाल से मधुमेह का खतरा भी कम होता है. बाजरे में मौजूद फाइबर से कैंसर का ख़तरा भी कम होता है.



बाजरा खिचड़ी रेसिपी (Bajra Khichdi Recipe)

Diabetes Diet: खिचड़ी को मधुमेह रोगियों के लिए एक अच्छा और स्वस्थ आहार माना जाता है. बाजरे की खिचड़ी प्रोटीन और से फाइबर में समृद्ध है. इसके अलावा, यह पाचन तंत्र पर आसान है, और हल्का और तैयार बनाने में भी आसान है. 

1. प्रेशर कुकर में पानी के साथ 2 और 1 के अनुपात में बाजरे और धूली मूंग की दाल डालें.

2. चार सीटी आने के लिए पर्याप्त समय तक पकाएं.

3. एक अलग पैन में, घी गरम करें और उसमें जीरा, सूखा धनिया पाउडर, गरम मसाला और लाल मिर्च पाउडर (स्वाद के लिए) पकाएं.

4. इस तड़के में पका हुआ बाजरे और दाल को मिलाएं और तब तक पकाएं जब तक कि यह मिक्स न हो जाए.

स्वस्थ खाने के अलावा, मधुमेह रोगियों को यह सुनिश्चित करना चाहिए कि वे व्यायाम या किसी अन्य शारीरिक गतिविधि में संलग्न हों, और नियमित रूप से ग्लाइकेटेड हीमोग्लोबिन के स्तर को प्राप्त करें.

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement