Gandhi Jayanti: ...और जब बापू ने गुड़ खाना कम कर दिया था

राष्ट्रपिता, मोहनदास करमचंद गांधी (Mohandas Karamchand Gandhi), या कहें महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का जन्मदिन है.

   |  Updated: October 01, 2018 18:21 IST

Reddit
Gandhi Jayanti: When Mahatma Gandhi quit jaggery, bapu ne chhoda tha gud

Gandhi Jayanti: बापू का जन्म महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 (2, October, Gandhi Jayanti) को हुआ था.

Gandhi Jayanti: 2 अक्टूबर को राष्ट्रपिता, मोहनदास करमचंद गांधी (Mohandas Karamchand Gandhi), या कहें महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi) का जन्मदिन है. बापू का जन्म महात्मा गांधी का जन्म 2 अक्टूबर, 1869 (2, October, Gandhi Jayanti) को हुआ था. बापू का देश की आजादी में बहुत बड़ा योगदान रहा. इतना कि उनके लिए यह गीत आज भी गाया जाता है- ''दे दी हमें आजादी बिना खड़ग बिना ढाल''. देश में आजादी अलख के लिए आम लोगों को जोड़ने का जो काम गांधी जी ने किया वह कोई और नहीं कर पाया. देश में आम जनमानस पर जितना गांधी जी का असर हुआ. देश की आजादी के लिए सत्य और अहिंसा को भी हथियार बनाया जा सकता है, यह बात अगर दुनिया को किसी ने सिखाई है तो वह हैं महात्मा गांधी. बापू से आज भी हर भारतीय ही नहीं पूरी दुनिया के लोग फॉलो करते हैं. बापू सत्यवादि थे. उन्होंने झूठ का त्याग किया था. इसी दिशा में उनसे जुड़ी कई कहानियां भी सुनाई जाती हैं...

mahatma gandhi

Gandhi Jayanti:  बापू उपवास और अनशन के लिए भी याद किए जाते हैं.

बापू उपवास और अनशन के लिए भी याद किए जाते हैं. खाने से जुड़ी उनकी पसंद-नापसंद उस समय लोगों के बीच खूब प्रचलित रही थीं. आपको बता दें कि बापू को गुड़ बहुत पसंद था. एक बार कुछ ऐसा हुआ कि बापू को गुड़ खाना छोड़ना पड़ा था. क्या हुआ था उस सयम इसकी कहानी हम आपको सुनाते हैं. (ये भी पढ़ें- दिल की हर बीमारी को दूर करेंगे ये 7 उपाय...)

सुबोध पब्लिकेशन की एक किताब 'प्रेरक कथाएं' में इस कहानी का जिक्र है. इस कहानी के अनुसार -

एक बार एक औरत उनके पास अपने छोटे बच्चे के साथ आई. उसे अपने बच्चे से बहुत गुस्सा था. वह बापू से कहने लगी कि 'बापू मेरा बेटा बहुत ज्यादा गुड़ खाता है. इतना ज्यादा कि इसके दांत खराब हो गए हैं. आप इसे कहिए कि ये गुड़ खाना छोड़ दे.'

इस पर बापू ने उसे औरत से कहा कि वह एक हफ्ते बाद अपने बेटे के साथ लौटे. वह औरत एक हफ्ते बाद दौबारा लौटी. इस पर बापू ने उसे फिर एक हफ्ते बाद आने की बात कही. ऐसा करीब-करीब तीन बार हुआ. 

जब चौथी बार वह औरत अपने बच्चे को लेकर आई तो महात्मा गांधी ने उस बच्चे को अपने पास बुलाया. इस बच्चे को बापू ने बहुत प्यार किया और अपने पास बिठा लिया. बापू ने बच्चे को समझाया कि ज्यादा गुड़ खाना ठीक नहीं, इससे दांतों में कीड़े पड़ जाते हैं, तुम कम गुड़ खाया करो. इसके बाद बापू ने उस औरत से कहा कि वह अपने बच्चे को ले जाए. बच्चा थोडे दिनों में गुड़ खाना छोड़ देगा. 
इस पर औरत को गुस्सा आया और उसने बापू से कहा कि इतना ही कहना था तो आप यह बात पहली बार में ही कह सकते थे. बेकार में मुझे 4 हफ्तों तक चक्कर कटाए. इस पर बापू ने उस औरत को जवाब दिया - '' बेटा चार हफ्ते पहले में भी बहुत गुड़ खाता था... और मैं ऐसे किसी आचरण को व्यवहार में लाने को नहीं कह सकता जिसे मैं खुद व्यहार में नहीं लाता.''

कुछ इसी तरह बापू ने गुड़ खाना कम कर दिया था...

और खबरों के लिए क्लिक करें.

ये भी पढ़ें- 

खाने से जुड़ी ये बुरी आदतें देती हैं कैंसर को बुलावा

ये 7 'हेल्दी फूड' शुगर के मरीज़ों को पहुंचा सकते हैं नुकसान

World Heart Day 2018: शराब पीने के बाद क्या होता है आपके दिल के साथ... !

World Heart Day 2018: यहां हैं हेल्दी हार्ट के लिए टॉप 10 हेल्दी फूड...

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

World Heart Day 2018: कैसा हो नाश्ता, जो दिल को बनाए रखे दुरुस्त

Vrat Recipes: नवरात्रि में बनाना चाहते हैं कुछ खास तो देखिए ये 10 बेस्ट व्रत रेसिपीज़

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement