अब कोलकाता में भी लिए जाएंगे ब्रेड के नमूनें, दिए गए जांच के आदेश

   |  Updated: May 26, 2016 11:33 IST

Reddit
Government Has Said To Take Samples Of Bread In Kolkata Also In Hindi
न्यूज़पेपर और टीवी पर चलती न्यूज़ की सुर्खियां बटोर रही ब्रेड ने लोगों को चिंता में डाला हुआ है। इसमें पाए गए हानिकारक रसायनों के बारे में जानने के बाद अब कोलकाता नगर निगम ने भी पूरे शहर में ब्रेड के नमूने एकत्र करने और उनकी जांच करने का आदेश दिया है।

पिछले दिनों सेंटर फॉर साइंस एंड एनवॉरमेंट द्वारा जारी एक अध्ययन रिपोर्ट में कहा गया था कि अधिकांश ब्रेड, बन, पाव, पिज़्ज़ा बेस तथा अन्य बेकरी उत्पादों में खतरनाक रसायन पाए गए हैं। मेयर-इन-काउंसिल-मेंबर (स्वास्थ्य) अतिन घोष ने बताया कि “उन्होंने अपने खाद्य सुरक्षा अधिकारियों के साथ बैठक कर पूरे शहर के विभिन्न इलाकों से ब्रेड के नमूने लेने के लिए कहा है। यह नमूने किड स्ट्रीट में स्थित केंद्र सरकार प्रयोगशाला और बारासात में स्थित एक अन्य प्रयोगशाला में जांच के लिए भेजे जाएंगे”।सीएसई की जारी रिपोर्ट में कहा गया था कि देश की ब्रेड निर्माता कंपनियां आटे के प्रसंस्करण के लिए पोटेशियम ब्रोमेट और पोटेशियम आयोडेट का प्रयोग करती हैं। पोटेशियम ब्रोमेट को 2बी श्रेणी के कैंसर पैदा करने वाले रसायन के तौर पर जाना जाता है। ब्रिटेन, यूरोपीय संघ, ऑस्ट्रेलिया, कनाडा और श्रीलंका सहित कई देशों में यह बैन है।

सीएसई की रिपोर्ट के आने के बाद ही भारतीय खाद्य एवं मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने कहा था कि वैज्ञानिकों की एक समिति की सिफारिश के बाद वह भी पोटेशियम ब्रोमेट को मंजूरी वाले एडीटिव की सूची से बाहर करने पर विचार कर रहे थे। एफएसएसएआई ने यह भी कहा कि पोटेशियम आयोडेट के उपयोग पर भी रोक लगाने से पहले वह इसके विरुद्ध प्रमाणों की जांच कर रहे हैं।

Comments(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है)

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement