इन पांच खाद्य पदार्थो को डाइट में शामिल करने से जोड़ों के दर्द में मिल सकती है राहत

गठिया एक ऐसा रोग है जिसके होने से जोड़ों में दर्द, सूजन और अकड़न आने लगती है.

   | Translated by: Payal  |  Updated: October 14, 2020 16:01 IST

Reddit
Here are the 5 foods that can help manage the joint pain and Arthritis
Highlights
  • आर्थराइटिस को गठिया नाम से भी जाना जाता है.
  • आम बोलचाल वाली भाषा में इसे जोड़ों का दर्द भी कहते हैं.
  • गठिया रोग में काफी तेज दर्द होता है.

आर्थराइटिस बढ़ती उम्र के साथ होने वाली एक आम बीमारी होती जा रही है. आर्थराइटिस को गठिया नाम से भी जाना जाता है. यह दो प्रकार का होता है .पहला, ऑस्टियोआर्थराइटिस और दूसरा रुमेटॉएड आर्थराइटिस. गठिया एक ऐसा रोग है जिसके होने से जोड़ों में दर्द, सूजन और अकड़न आने लगती है. वैसे तो 60-65 वर्ष की आयु से ऊपर के वयस्कों में यह समस्या आम रूप से देखी जाती है लेकिन, धीरे-धीरे युवा भी इससे प्रभावित होने लगे हैं. गऔर ठिया रोग में काफी तेज दर्द होता है, सर्दी के मौसम में स्थिति और ज्यादा खराब होने लगती है क्योंकि ठंड की वजह से आपके जोड़ों में अकड़न सूजन आ जाती है.


हालांकि, इस स्थिति के लिए कोई स्थायी इलाज नहीं है, लेकिन, कई हेल्थ एक्सपर्ट्स सुझाव देते हैं कि डाइट में कुछ निश्चित बदलाव करने से इस स्थिति को मैनेज करने में मदद मिल सकती है. नियमित व्यायाम, कुछ निर्धारित दवाओं और फिजियोथेरेपी के अलावा, हमारी डाइट गठिया के कारण जोड़ों के दर्द को मैनेज करने में एक प्रमुख भूमिका निभाते हैं. सूजन से लड़ने, हड्डियों को मजबूत करने और इम्युनिटी को बढ़ाने के लिए कुछ खाद्य पदार्थ सुझाए गए हैं. एक फिटनेस और पोषण वैज्ञानिक डॉ. सिद्धांत भार्गव का कहना है कि अपनी बैलेंस डाइट में इन खाद्य पदार्थों को शामिल करने से आपको गठिया के लक्षणों को कम करने में मदद मिल सकती है.

Newsbeep

ब्रेकफास्ट में पोहे से बनाएं यह हेल्दी नाश्ता Recipe Video Inside


जोड़ों के दर्द और गठिया के लिए इन पांच खाद्य पदार्थों को अपनी डाइट में शामिल करें

1. फल

डोरलिंग किंडरस्ले के 'हीलिंग फूड्स' के अनुसार, फल एंटीऑक्सिडेंट से भरे होते हैं जो सूजन को दबाते हैं और शरीर को सेल-डैमेजिंग फ्री रेडिकल्स से छुटकारा पाने में मदद करते हैं. सेब, खुबानी और ब्रेरीज़ कुछ ऐसे फल हैं जो आपको जोड़ों के दर्द में राहत पहुंचा सकते हैं. यहां देखें कि आप इन फलों को अपने आहार में कैसे शामिल कर सकते हैं:

एप्पल एंड सेलेरी सैलेड


2. ग्रीन टी

माना जाता है पॉलीफेनोल और एंटीऑक्सिडेंट से पैक्ड ग्रीन टी कार्टलिज डिस्ट्रक्शन को धीमा करने के अलावा सूजन को कम करने मदद कर सकती है. बस एक कप गर्म पानी में एक ग्रीन टी बैग मिलाएं और हिलाएं. बढ़िया स्वाद के लिए आप इसमें दालचीनी, शहद और नींबू मिला सकते हैं. 


3. दही

ठंडी होने के साथ दही में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं. यह कैल्शियम का भी एक बढिया स्रोत है जो हमारी हड्डी को स्वस्थ और मजबूत बनाता है. आप चाहे तो दोपहर के भोजन में एक बाउल दही का ले सकते हैं या फिर आप इससे स्वादिष्ट डिश भी बना सकते हैं.

योगर्ट पुडिग


4. ब्रॉकली


विटामिन सी, के, प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर ब्रॉकली में सल्फोराफेन नामक यौगिक होता है. कई शोधों के अनुसार माना जाता है कि यह ऑस्टियोआर्थराइटिस की प्रगति को पूर्वानुमानित या मध्यम करने में मदद कर सकता है. आप चाहे तो ब्रॉकली इस स्वादिष्ट और हेल्दी रेसिपी को अपना सकते हैं.


ब्रॉकली बेक

5. फिश 


डॉ. भार्गव कहते है कि विशिष्ट प्रकार की मछली जैसे टूना, सैल्मन, हेरिंग और मैकेरल, सूजन से लड़ने वाले ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरी होती हैं. इसी वजह से गठिया में इन्हें रेकमेंड किया जाता है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

30 मिनट में तैयार होने वाली इन 11 इंडियन वेजिटेरियन रेसिपीज को करें ट्राई

डिस्केलेमर: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. NDTV इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement