Eid 2019: ईद के मौके पर रसोई में बने कुछ ऐसा खास कि सब आ जाएं पास-पास...

इस दिन लोग भेंट में सेवियां देते हुए, एक दुसरे के गले मिलकर ईद की बधाई देते हैं। और भी कई ऐसी रेसिपीज़ हैं, जिन्हें ट्राई कर आप इस मौके पर स्पेशल मेन्यू तैयार कर सकते हैं, आइए बताते हैं कैसेः

Edited by: अनिता शर्मा  |  Updated: June 05, 2019 10:01 IST

Reddit
Here Is The Special Menu, Which You Can Cook Up On The Occassion Of Eid In Hindi
Highlights
  • Eid 2017: ईद के मौके पर लोग नए कपड़े पहनते है.
  • ईद-उल-फितर या ईद मुसलमानों के लिए उनके धर्म का सबसे बड़ा त्योहर है.
  • इस मौके पर मिठाईयां और सिवईयां भी बांटी जाती हैं.

ईद मुबारक हो, ईद के जश्न की शुरुआत एक रात पहले ही हो जाती है, जिसे ‘चांद रात' के नाम से जाना जाता है. लोग बाज़ार में नए कपड़े, गहने, चूड़ियां आदि खरीदते हैं. युवा लड़कियां अपने हाथों पर मेंहदी लगाती हैं. ईद का त्योहार गर्मा-गर्म सेवियां, फिरनी, केसरी खीर, चटनी के साथ सर्व किए जाने वाले सीक कबाब, मुंह में घुल जाने वाली बैदा रोटी और निहारी के बिना अधूरा है.

 


लच्छा सेवियां एक ऐसी डिश है, जो ईद के मौके पर ज़रूर बनती है. इसमें सेवियां भूनकर दूध में डाली जाती है और ऊपर से ड्राई फ्रूट्स छिड़के जाते हैं.

हम जानते हैं कि इन सभी रेसिपी के नाम पढ़कर, आपके भी मुंह में पानी आ गया होगा. तो चलिए आपको बताते हैं कि ईद के मौके पर इन बेस्ट ईद रेसिपी को घर पर कैसे तैयार कर सकते हैं और लज़ीज़ व्यंजनों का मज़ा लूट सकते हैं.

इस साल देशभर में 26 जून को मनाई जाएगी ईद

क्या रमजान और ईद-उल-फितर से जुड़ी इन 7 रोचक बातों को जानते हैं आप...
स्टाटर्स के लिएः

1. लाहौरी कबाब
शेफः
टीम पाकिस्तान
बनाने में लगने वाला समयः एक घंटा

यह लाहौरी कबाब किसी भी बार्बीक्यू पार्टी का टेस्ट बढ़ा सकते हैं. रेगूलर कबाब से ज़्यादा जूसी, जिन्हें एक बार तो जरूर ट्राई करें.
 


सामग्रीः
चिकनः एक किलो (कटा हुआ)
जीराः एक छोटा चम्मच
धनियाः एक छोटा चम्मच
लाल मिर्चः एक छोटा चम्मच (क्रश की हुई)
सौंफः आधा छोटा चम्मच
हरी इलायची पाउडरः आधा छोटा चम्मच
गरम मसाला पाउडरः आधा छोटा चम्मच
काली मिर्चः आधा छोटा चम्मच (साबुत)
लाल मिर्च पाउडरः एक छोटा चम्मच
नमक (स्वादानुसार)
प्याज़ः चाप
हरे सेबः चार
अदरक पेस्टः दो बड़े चम्मच
लहसुन पेस्टः दो बड़े चम्मच
स्वीट सोडाः एक छोटा चम्मच
हरा धनियाः एक बड़ा चम्मच
मेथीः एक छोटा चम्मच
पुदीनाः एक बड़ा चम्मच
देसी घीः 150 ग्राम
सॉस के लिएः
आलूबुखाराः 100 ग्राम (सूखा)
इमलीः 50 ग्राम
टमाटर कैचअपः आधा कप
लाल मिर्च पाउडरः ¼ छोटा चम्मच
नमक (स्वादानुसार)

विधिः
कटे हुए चिकन में सभी मसाले डाल दें. प्याज़ काट लें और उसका एक्सट्रा पानी निकाल दें. ऐसे ही सेब के साथ करें और फिर इन्हें मसालों के मिश्रण में हरी मिर्च, अहरक लहसुन के पेस्ट, स्वीट सोडा और सब्जियों के साथ डाल दें. फ्रिज में 10-15 मिनट के लिए मिश्रण रख दें. कबाब को शेप देकर चारकोल ग्रिल करें. टेस्ट के लिए घी का इस्तेमाल करें. इमली के गूदे की सॉस के साथ सर्व करें.

सॉस के लिएः
सूखे आलूबुखारे और इमली को तीन कप पानी में उबाल लें. छान कर बीज अलग कर दें. कैचअप के साथ गूदे को पीस लें. अब इसमें लाल मिर्च पाउडर और नमक मिलाएं. आपकी सॉस बनकर तैयार है.

2.    खजूर शेक
शेफः
हेनरी डिम्बलबे

एक ऐसी ड्रिंक जो आपको खुश कर देगी. एक मुट्टी खजूर लें और उन्हें केले और दूध के साथ ब्लेंड करें. एक्सट्रा फ्लेवर के लिए एक चुटकी दालचीनी और इलायची मिलाएं.
 


सामग्रीः
खजूरः 15 साबुत ( मोटे और खड़े कटे हुए)
सोया मिल्कः 250 मिली (फीका)
केलाः एक (पका हुआ, छिला और कटा)
आइसक्यूबः दो-चार
दालचीनी और हरी इलायचीः एक चुटकी (पिसी हुई)

विधिः
ब्लेंडर में सारी सामग्री एक साथ डाल लें और अच्छे से ब्लेंड करें. गाढ़ी और क्रीमी होने पर निकाल लें और एकदम सर्व करें.

मेन कोर्स मील के लिएः

3. वार्की परांठे के साथ निहारी गोश्त
शेफः फूडिस्तान

निहारी एक मुख्य डिश है, जो हर मुस्लिम पार्टी में आपको जरूर मिलेगी. इस लाजवाब डिश को वार्की परांठा के साथ टेस्ट करें. टिपः ऊपर से नींबू का रस, कच्ची पतली कटी अदरक और हरी मिर्च डालकर गार्निश करें और परोसें.
 


सामग्रीः
निहारी गोश्त के लिएः
सरसों का तेलः तीन बड़े चम्मच
सौंफ पाउडरः दो छोटे चम्मच
दालचीनीः एक इंच
हरी इलायचीः पांच
तेजपत्ताः दो
प्याजः 2 ½ कप (कटी हुई)
अदरक पेस्टः तीन बड़े चम्मच
लहसुन पेस्टः तीन बड़े चम्मच
मेमने की टांगः 1.6 किलो (पांच इंच पीस)
पीली मिर्च पाउडरः दो छोटे चम्मच
हल्दीः एक छोटा चम्मच
मटन स्टॉकः एक लीटर
ताजा धनियाः दस ग्राम
दहीः एक कप (फेंटा हुआ)
चीनीः दो छोटे चम्मच (पिसी हुई)
देसी घीः पांच बड़े चम्मच
बेसनः पांच छोटे चम्मच
गरम मसाला पाउडरः एक छोटा चम्मच
जावित्री पाउडरः एक चुटकी
हरी इलायची पाउडरः एक छोटा चम्मच
नमक (स्वादानुसार)
केसरः थोड़ा-सा (दो बड़े चम्मच दूध में घूला)
केवड़ा पानीः एक छोटा चम्मच
वार्की परांठे के लिएः
आटाः दो कप
नमकः एक छोटा चम्मच
देसी घीः चार बड़े चम्मच

विधिः
एक बर्तन में तेल गर्म करके उसमें सौंफ, दालचीनी, हरी इलायची और तेजपत्ता डालें. इसके बाद उसमें कटी हुई प्याज को भूरा होने तक भूनें. अब इसमें अदरक-लहसुन का पेस्ट और तेजपत्ता डालकर भूनें. इसमें धुला और साफ किया हुआ गोश्त टांग पर नमक लगा कर अच्छे से पकाएं. एक अलग बर्तन में मटन स्टॉक को मटन की हड्डियों के साथ उबालें. अब इसमें पीली मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर गोश्त में डालें और उसे मटन स्टॉक से ढक दें और 45 मिनट तक हल्की आंच पर पकने के लिए छोड़ दें. ग्रेवी जब उबलने लगे तो उसमें ताजा धनिया डाल दें. जब मीट मुलायम हो जाए उसमें फेंटा हुआ दही डाल दें. अगर जरूरत लगे तो टेस्ट का संतुलन बनाने के लिए उसमें एक चुटकी पिसी हुई चीनी डाल दें. अब दूसरे मोटे तले के पैन में देसी घी डालकर गर्म करें और उसमें बेसन डाल दें. हल्का भूरा होने तक भूनें और एकदम से नेहारी पर डाल दें. बची हुई सारे मसाले, केसर दूध, केवड़ा पानी और अपने हिसाब से मसाले डाल लें. ताजे धनिये से सजाएं.

वार्की परांठे के लिएः
आटा, नमक और पानी की मदद से मुलायम गुंथ लें. अब इसे 90 ग्राम वजन की छोटी-छोटी बॉल बना लें औरहर बॉल को समतल कर लें. अब इसमें देसी घी, आटा छिड़कर कर फैन फोल्ड करें और इसके बाद इसे गोलाई में घूमाएं. इसे दस मिनट के लिए छोड़ दें. हाथ से सभी लोई को समतल करके तंदुर में लगा दें. सिकने पर निकाल लें, उस पर मक्खन लगाएं और सर्व करें.

4.     शाही बिरयानी
शेफः नीरू गुप्ता
बनाने में लगने वाला समयः एक घंटा और 30 मिनट और चार घंटा मैरिनेड करने के लिए

केसर दूध की परत और जूसी मटन पीस के साथ यह बिरयानी दम-स्टाइल में पकाई जाती है.
 


सामग्रीः
मटनः आधा किलो (छोटे पीस में कटा हुआ)
प्याज़ः एक कप (बारीक कटा हुआ)
घीः प्याज़ तलने के लिए
जीराः एक छोटा चम्मच
तेज़ पत्ताः एक
गाढ़ी क्रीमः ¼ कप
हरा धनियाः दो बड़े चम्मच (गार्निश करने के लिए)
मैरिनेड करने के लिएः
प्याज़ः एक कप (कद्दूकस किया हुआ)
अदरक पेस्टः एक छोटा चम्मच
लहसुन पेस्टः एक छोटा चम्मच
हल्दीः एक छोटा चम्मच
काला जीराः एक छोटा चम्मच
नमक (स्वादानुसार)
दहीः एक कप
गरम मसालाः एक छोटा चम्मच
चावलों के लिएः
बासमती चावलः दो कप (साफ किए और पानी में भिगे हुए)
हरी इलायचीः दो
लौंगः दो
काला जीराः आधा छोटा चम्मच
दालचीनीः एक पीस (छोटे टुकड़ों में टूटी हुई)
नमक (स्वादानुसार)
केसरः आधा छोटा चम्मच (1/4 कप गुनगुने दूध में भिगा हुआ)
घीः दो बड़े चम्मच

विधिः
सभी मसालों को मिला लें और चार घंटे के लिए मैरिनेड करने के लिए छोड़ दें. भारी तले के पैन में घी गर्म करें और उसमें प्याज़ डालकर ब्राउन और क्रिस्प होने तक फ्राई करें. घी में से प्याज़ निकाल लें और सोखने वाले पेपर पर रखकर अलग रख दें. आधा कप घी, जो कि पैन में बचा था में जीरा और तेजपत्ता डालें और कुछ सेकेंज के लिए फ्राइ करें. जब तक उसका रंग न बदल जाए आंच को तेज़ रखें और मीट मिश्रण में मिलाएं. मीट को तेज़ आंच पर फ्राइ करें, जब तक मीट के पीस धुंधले न दिखने लगे. आंच को कम कर दें और आधा ढक कर हल्की आंच पर पकने दें. मीट के मुलायम होने तक बीच-बीच में मिलाएं. पानी के सूखने और तेल अलग होने तक भूनें.

अगर मीट सही से न पका हो तो उसमें पानी डालकर पकते रहने दें. और अगर पानी के सूखने से पहले मीट पक जाए, तो पैन का ढक्कन हटा दें और तेज़ आंच पर पानी सूखने के लिए छोड़ दें. आंच से पैन हटा दें और उसमें फ्राइ की गुई प्याज़, क्रीम और हरा धनिया डालकर अच्छे से मिलाएं. जब तक मीट पके, इतने चावलों का पानी निकाल कर अलग रख लें.

दो बड़े चम्मच घी गर्म कर लें और उसमें काला जीरा, इलायची, लौंग और दालचीनी डालें. कुछ देर चलाएं और नमक और चावल मिलाएं. अब  2 ½ कप पानी डालकर उबाल आने के लिए रख दें. आंच को कम कर दें और उन्हें ढककर आठ मिनट के लिए पकने के लिए रख दें.  आंच को बंद कर दें और पैन को आंच पर ही रखा रहने दें. चावल लगभग पककर तैयार हैं. सर्व करने से आधे घंटे पहले मीट और चावलों को आधा-आधा बांट लें. पैन से आधा मीट निकाल लें और एक परत तले में ही छोड़ दें. पैन में यह परत अच्छे से फैलाएं.

अब इसे आधे चावलों की परत से ढकें. आधा केसर वाला दूध ऊपर से डालें और इसके बाद मीट की दूसरी परत लगाएं. इसके बाद आकिर में बचे हुए आधे चावलों को भी इसमें मिला दें. बचा हुआ मिल्क ऊपर से डालें और केसर का मिश्रण चावलों के ऊपर डाल दें.

गेंहू के आटे से पैन को सील कर दें और हल्की आंच पर आधे घंटे के लिए पकने के लिए छोड़ दें. इसके अलावा, ओवनप्रूफ डिश में लगाकर प्री-हीट ओवन में आधे घंटे के लिए बेक कर सकते हैं. उसी डिश में सर्व करें या फिर आराम से मिलाकर दूसरी डिश में डालें और परोसें.

5. शीरमल के साथ चिकन कोरमा
शेफः गुंजन गोइला
आठ लोगों के लिए
बनाने में लगने वाला समयः एक घंटा

डिनर में विनर रह चुकी यह रेसिपी, वाकई कमाल है. स्वादिष्ट करी में जायफल, जावित्री, गोल मिर्च, काजू और केवड़ा का फ्लेवर वाकई जबरदस्त है. शीरमल के साथ सर्व करें, एक पारंपरिक मीठी ब्रेड.
 


सामग्रीः
चिकनः एक साबुत
घीः आधा कटोरी
प्याज़ः तीन (कटी हुई)
लहसुनः तीन-चार छोटे चम्मच (कटे हुए)
धनिया पाउडरः पांच-छह छोटे चम्मच
लाल मिर्च पाउडरः तीन छोटे चम्मच
नमक (स्वादानुसार)
दालचीनीः दो-तीन
हरी इलायचीः चार-पांच
काली इलायचीः एक-दो
लौंगः तीन-चार
जायफल और जावित्रीः दो-तीन
गोल मिर्चः एक छोटा चम्मच
जीराः आधा छोटा चम्मच
दहीः 400-500 ग्राम
काजूः 6-7
गरम मसालाः आधा छोटा चम्मच
केवड़ाः एक छोटा चम्मच

विधिः
गहरे बर्तन में घी गर्म कर लें और उसमें प्याज़ डालकर भून लें. बर्तन से निकाल कर अलग रख दें. उसी बर्तन में चिकन, लहसुन, धनिया पाउडर, नमक और लाल मिर्च पाउडर डालकर मिलाते रहें. अब इसमें दूसरे मसाले डालकर अच्छे से मिलाएं और थोड़ी देर के लिए ढक दें. इतने भुनी हुई प्याज़ को क्रश कर लें और इसे चिकन में दही के साथ मिला लें. ढककर 20 मिनट के लिए हल्की आंच पर पकाएं. अब इसमें काजू, गरम मसाला और केवड़ा डालकर मिलाएं और कुछ और देर के लिए पकाएं और शीरमल के साथ सर्व करें.

डिज़र्ट के लिएः

6. शीर खुरमा

शेफः नीरू गुप्ता
पांच लोगों के लिए
बनाने में लगने वाला समयः आधा घंटा

शीर खुरमा सेवई का ही एक स्वादिष्ट वर्ज़न है, जो कि ख़ासतौर से ईद के मौके पर ही बनाई जाती है. शीर दूध के लिए और खुरमा खजूर के लिए इस्तेमाल किया जाता है. यह इलायची, किशमिश, कद्दूकस किया नारियल के फ्लेवर के साथ बनाया जाता है, जिसका स्वाद जन्नत की सैर करा देता है.
 


सामग्रीः
फुल क्रीम मिल्क- पांच कप
सेवईः 50 ग्राम (भुनी हुई, छोटी पीस में टूटी हुई)
नारियलः 50 ग्राम (सूखा और कद्दूकस किया)
चीनीः आधा कप
हरी इलायचीः दो
खजूरः दो बड़े चम्मच (कटे हुए)
किशमिशः 10-12
बादामः ¼ कप (उबले और कटे हुए)
खसखसः आधा छोटा चम्मच
वर्क के पत्तेः दो-चीन (सिल्वर फॉइल)

विधिः
एक बड़े पैन में दूध डालकर हल्की आंच पर पकने के लिए रख दें. क्रीम जैसा गाढ़ा होने तक पकाएं. सेवई, नारियल, चीनी, इलायची, खजूर और आधे बादाम और किशमिश डाल दें. उबला आने के लिए रख दें और हल्की आंच पर पांच मिनट के लिए पकने के लिए छोड़ दें. खसखस मिलाएं. सर्विंग बाउल में डालें और सिल्वर के पत्ते से गार्निश करें. ऊपर से बादाम और किशमिश डालकर ठंडा या गर्म परोसें.

7. मीठी सेवई
शेफः मारुत सिक्का
बनाने में लगने वाला समयः 35 मिनट

बिना मीठी सेवई के ईद मनाई ही नहीं जा सकती. सही में, एक बाउल मीटी सेवई के बिना ईद का सेलिब्रेशन अधूरा लगता है. दूध में भीगी हुई और ऊपर से बादाम और पिस्ता डालकर परोसी जाती है. शेफ मारुत सिक्का ने इसके फ्लेवर को और बढ़ाने के लिए इसमें खोए का इस्तेमाल किया. इस डिजर्ट के स्वाद को एक अलग ही लेवल पर पहुंचा दिया.
 


सामग्रीः
पिस्ताः आधा कप
बादामः आधा कप
सेवईः एक पैकेट
देसी घीः सेवई पकाने के लिए
मिल्कः एक कप
शुगर सीरपः एक कप
इलायची पाउडरः एक चुटकी
केसरः एक चुटकी
खोयाः एक मुट्ठी

विधिः
पानी में बादाम और पिस्ता डालकर उबाल लें. इन्हें 30-45 मिनट से ज़्यादा न उबालें. इनके उबलने के बाद पिस्ता और बादाम को छील लें और काट कर अलग रख लें. अब देसी घी में सेवई पकाएं. जब यह ब्लेक ब्राउन रंग की हो जाएं, तो बाहर निकाल लें. इन्हें छलनी में डाल दें ताकि एक्सट्रा तेल निकल जाए. अब कढ़ाई को खाली कर लें और उसमें दूध डालें. जब दूध में उबाल आने लगे, तो उसमें चाशनी मिलाएं और इसके बाद सेवई डालकर हल्के-हल्के मिलाएं. सेवई को चलाते समय थोड़ा ध्यान दें कि वह टूट न जाए. दूध सेवई को मुलायम करके पूरी तरह से पका देगा. इसके बाद दूध में केसर और इलायची पाउडर मिलाएं. अब इसमें कटे हुए बादाम और पिस्ता डालें और अच्छे से मिलाएं. आखिर में खा या डालें. कढ़ाई में छोटे पीस को कद्दूकस करके डालें और अच्छे से मिलाएं. जब दूध अच्छे से सूख जाए, तो एक से दो मिनट सूखा भूनें और परोसें.

ईद का मतलब दोस्तों, परिवार वालों और आस-पड़ोस के लोगों के साथ मिलाकर धूम-धाम से जश्म मानना होता है. त्योहार का समय है और घर पर तैयार है लज़ीज़ खाना, तो देर किस बात की आइए मिलाकर मनाते हैं यह ईद का त्योहार...

Commentsईद मुबारक!



NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement