विटामिन ई की ज्यादा खुराक से हो सकता है निमोनिया का खतरा

   |  Updated: November 02, 2016 11:44 IST

Reddit
Higher doses of vitamin e may risk pneumonia to elderly men
अपनी खास जीवनशैली पर निर्भर लोग रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए विटामिन-ई की खुराक ज्यादा लेते हैं, मगर सावधान! इसके दुष्प्रभाव से बुजुर्गों को निमोनिया हो सकता है। एक अध्ययन से पता चला है कि ज्यादा धूम्रपान करने वाले और नियमित व्यायाम न करने वाले पुरुषों में विटामिन-ई की ज्यादा मौजूदगी निमोनिया का खतरा 68 प्रतिशत तक बढ़ा देती है।

इसके विपरीत, जो लोग धूम्रपान कम करते हैं और खाली समय में व्यायाम किया करते हैं, उनमें विटामिन-ई की मौजूदगी निमोनिया के खतरे को 69 प्रतिशत कम कर देती है। 

फिनलैंड के हेलिसिंकी विश्वविद्यालय के रिसर्च स्कॉलर हारी हेमिला ने कहा, "विटामिन-ई का स्वास्थ्य पर प्रभाव लोगों की कई विशेषताओं और उनकी जीवनशैली पर निर्भर करता है।"
Newsbeep
शोध करने वाली टीम ने विटामिन-ई के प्रभावों और निमोनिया के खतरों को लेकर कई प्रयोग किए। इसमें फिनलैंड के 1985 और 1993 के बीच वाले 50 से 69 साल के पुरुषों पर अध्ययन किया गया। 29,133 प्रतिभागियों में से 898 लोगों में निमोनिया के लक्षण पाए गए।

शोधपत्र के लेखक का दावा है कि शोध का निष्कर्ष विटामिन-ई की खुराक और निमोनिया के खतरों के बारे में इस अवधारणा का का खंडन करता है कि विटामिन-ई हर इंसान पर एक समान प्रभाव डालता है।

इस शोधपत्र को पत्रिका 'ब्रिटिश जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन' में प्रकाशित किया गया है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com





Comments(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement