गर्मियों के मौसम में किस तरह बनाएं एक अच्छी कोल्ड कॉफी

इस चिलचिलाती गर्मी को दूर करने के लिए आप अपनी पसंदीदा कोल्ड कॉफी घर पर भी बना सकते हैं.

NDTV Food Hindi  |  Updated: July 29, 2015 15:40 IST

Reddit
How to make cold coffee on a hot summer day in Hindi

मौसम चाहे कोई भी क्यों न हो, हर जेनरेशन के लोग बाहर जाकर सबसे पहले कॉफी पीना ही ऑर्डर करते हैं। कई लोगों की तो दिन की शुरुआत तक कॉफी से होती है। सर्दियों में हॉट कॉफी और गर्मियों में कोल्ड कॉफी के दीवानों की कमी नहीं है।

बाज़ार में तो आपको हर स्टेट की कॉफी का स्वाद मिल जाएगा, लेकिन अगर आपको यह पता चले कि इस चिलचिलाती गर्मी को दूर करने के लिए आप अपनी पसंदीदा कोल्ड कॉफी घर पर भी बना सकते हैं, तो कैसा रहेगा। आजकल कई लोगों के लिए कॉफी सिर्फ एक पेय पदार्थ ही नहीं, बल्कि इसकी खुशबू एक प्रेरणा बन चुकी है। कई को इसे पीने से एनर्जी मिलती है, तो कई के लिए इसके पांच से दस कप पीना मामूली बात है। शायद कई लोगों के लिए तो कॉफी एक लाइफस्टाइल तक बन चुकी है।



Karwa Chauth 2018: तिथि, पूजा विधि, चांद निकलने का समय, शुभ मुहूर्त और स्पेशल फूड
 



Karva Chauth 2018 (Karwa Chauth): सरगी में क्या खाएं कि पूरा दिन रहें एनर्जी से भरपूर
 



इस त्योहारी सीजन में फिट रहने के लिए आपके काम आएंगे ये टिप्‍स‌‌‌‌‌‌...
 



Diwali 2018: दीपावली तिथि, लक्ष्मी पूजन मुहूर्त, पूजन विधि, लक्ष्मी आरती और स्पेशल फूड



असल में कॉफी पीना अच्छा होता है, जिसका जवाब कॉफी का स्वाद नहीं, बल्कि इसमें छिपे फायदे हैं। क्या आप जानते हैं कि वर्कआउट करने से पहले अगर आप कॉफी पीते हैं, तो यह फैट को बर्न कर रक्तप्रवाह में फैटी एसिड को मुक्त करती है।


आप सोच रहे होंगे कि कोल्ड कॉफी घर पर बनाना तो बहुत आसान होता है। इसे बनाने के लिए सिर्फ चीनी, दूध और बर्फ को शेकर में डालकर मिलाने की ही तो ज़रूरत होती। लेकिन आपको बता दें कि कॉफी सिर्फ इन चार चीजों को मिला लेने से नहीं, बल्कि काफी कुछ करने से बनती है। साफ, ताज़ा स्वाद और खुशबू पाने के लिए कितनी मात्रा में दूध और कॉफी डालनी चाहिए। ऐसा करना आपको एक रेसिपी और शेफ नहीं, बल्कि फूड साइंटिस्ट और कॉफी विशेषज्ञ ही बता सकेंगे।

चिंता मत करीए! ऐसा करने के लिए आपको किसी भी सांइटिस्ट या विशेषज्ञ के पास जाने की नहीं बल्कि ऐसे नुस्खे को जानने की है, जो ख़ासतौर से कोल्ड कॉफी बनाने में काफी मददगार हो सकता है। आइए जानते हैं कैसेः

कहानीः ठंडी कॉफी आपको वहीं स्वाद नहीं देती, जो गर्म कॉफी देती है
कोल्ड कॉफी के कई दिवानों का यह मानना है कि कॉफी का कड़वा और गाढ़ा स्वाद ठंडे तापमान में नहीं आ पाता। कोल्ड कॉफी या तो गर्म ब्रयू से बनाई जाती है या ठंडी ब्रयू से, जो कि आपके रोज़ की गर्म कॉफी से काफी तेज़ होती है। बल्कि कई लोगों का तो यह भी मानना है कि ठंडी ब्रयू ज़्यादा तेज़ होती है, वह कैसे? आपको बताते हैं।

गर्म वर्सेज़ ठंडी ब्रयू
 

अमेरिकन्स दो ढंग से कोल्ड कॉफी बनाना पसंद करते हैं। इन दोनों ही विधि को जान लेने के बाद आप शायद ही कोल्ड कॉफी के स्वाद के बारे में शिकायत करेंगे।


कॉफी बीन्स के अंदर कई तरह के पदार्थ होते हैं- तेल, एसिड, मिनरल्स, खुशबू आदि। जब कॉफी बनाई जाती है, तो यह सभी पदार्थ अपना अलग स्वाद देते हैं। अब बात आती है पानी के तापमान की, जो कॉफी को बनाते समय इस्तेमाल में लाया जाता है। साथ ही एक और बात पर भी ध्यान देने की ज़रूरत है कि कॉफी कितने टाइम तक के लिए बनानी चाहिए।



इस त्योहारी सीजन में फिट रहने के लिए आपके काम आएंगे ये टिप्‍स‌‌‌‌‌‌...
कैसे रोकें उल्टियां, ताकी ट्रैवल के दौरान न हो परेशानी, 7 घरेलू नुस्खे
Weight Loss: इन 3 असरदार Diet Tips से वजन कम होगा, गायब हो जाएगा बैली फैट...
Weight loss: वजन घटाने में मदद करेगा इलायची का पानी, इलायची के फायदे
अगर अच्छी नींद चाहिए, तो सोने से पहले खाएं ये 5 आहार...
Diabetes: कैसे आंवला करेगा ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल, आंवला के फायदे



गर्म कॉफी में कॉफी के टुकड़े बहुत जल्दी टूटते है, जिसकी वजह से इसका स्वाद काफी स्ट्रॉन्ग होता है। साथ ही यह टेस्ट में थोड़ी एसिडिक भी होती है। वहीं, आपको कोल्ड कॉफी बनाने के लिए किसी ख़ास तापमान की ज़रूरत नहीं पड़ती। इसे आप किसी भी समय तैयार कर सकते हैं। तो यह दोनों ही विधि एक अच्छी कॉफी का स्वाद लेने और बनाने के लिए बेहतर हैं।


गर्म कॉफी असल में जापानी तरीके से बनाई जाती है। इसे बनाने के लिए, आपको ब्रयू को तैयार करना पड़ेगा। इसके लिए कॉफी और गर्म पानी को अच्छी तरह मिलाकर बर्फ के ऊपर डालें। हालांकि ऐसा करके आप कॉफी का ऑक्सीडाइज़ स्वाद थोड़ा ख़त्म कर देंगे, लेकिन फिर भी यह कॉफी आपको ताज़गी का अहसास देगी।

अमेरिकन्स का गर्म कॉफी बनाने का तरीका भी जापानीज़ की तरह है। वहीं, यहां की कोल्ड कॉफी बनाने का तरीका काफी लंबा है, जिसके लिए करीब 18-20 घंटे तक लग सकते हैं। इसे तैयार करने के लिए सबसे पहले बारीक पीसी हुई कॉफी को एक जार में डालें। फिर ऊपर से ठंडा पानी डालें, ध्यान रहे कॉफी और पानी का अनुमान 1:8 में होना चाहिए। इसके बाद इसे करीब 18 घंटे के लिए ढक्कर रख दें। समय बीतने के बाद कॉफी को मलमल के कपड़े के ऊपर डालें। कपड़े पर आए कॉफी के मोटे पीस को अलग कर फेंक दें। फिर इसमें थोड़ा दूध डालें, आपकी कॉफी तैयार है!

हालांकि इन दोनों ही तरह की विधियों पर कई सालों से चर्चा चल रही है, फिर भी ऐसा माना जाता है कि अगर कॉफी को लंबे समय तक रखा जाए, तो इसका ऑक्सीजन के साथ मिलने से स्वाद खराब होता है। वहीं, दूसरी ओर गर्म कॉफी के बनाने के तरीका में जब कॉफी गर्म पानी के साथ मिलाई जाती है, वह भी ज़्यादा तापमान पर, तो यह ऑक्सीडाइज़ हो सकती है, जिसकी वजह से इसके स्वाद में भी बदलाव आ जाता है। लेकिन कई लोगों का मानना यह है कि अगर गर्म कॉफी को बर्फ के ऊपर डाला जाए, तो इसका पूराना स्वाद वापस लाया जा सकता है।

कॉफी के साइंस पर ध्यान केंद्रित करने वाली शोधकर्ता जोसेफ रिवेरा और कॉफीकेमिस्ट्री.कॉम के फाउंडर की सलाह के अनुसार कोल्ड कॉफी बनाने का तरीका आपको उत्पाद के अंत से पता चलता है। यह गर्म कॉफी से 66 प्रतिशत कम एसिडिक होती है। साथ ही इसका ठंडा तापमान एसिड के ऊपर मास्क की तरह काम करता है। गर्म कॉफी में कड़वे कण ज़्यादा जल्दी टूटते हैं। वहीं, अगर आप कोल्ड कॉफी बना रहे हैं, तो यह कण आपको ज़्यादा अच्छा स्वाद देते हैं। (यह कॉफी स्वाद में हल्की कड़वी, हल्की एसिडिक होती है, साथ ही यह गर्म कॉफी से ज़्यादा ताज़गी देती है।)
साइंटिफिकली यह कहना मुश्किल है कि इन दोनों ही तरह की कॉफी में से कौन-सी कॉफी का स्वाद ज़्यादा अच्छा होता है। फिर भी गर्म कॉफी का स्वाद थोड़ा बेहतर होता है।




 




 




 




 




 




 





वर्ल्ड की कोल्ड कॉफीज़


कोल्ड कॉफी की अगर बात करें, तो आपको बता दें कि वियतनाम की कॉफी काफी अच्छी है। यहां कॉफी का नाम ‘का फी स्वा दा' है। नाम थोड़ा मुश्किल ज़रूर है, लेकिन इसकी विधि की अगर बात करें, तो वह काफी आसान है। केवल तीन सामग्री- दूध, कॉफी और बर्फ से बन जाने वाली इस कॉफी को चुटकियों में बनाया जा सकता है। ख़ास बात यह है कि यह कॉफी साधारण दूध से नहीं, बल्कि गाढ़े दूध से बनाई जाती है। इसके इस्तेमाल से आप अपनी कॉफी को गाढ़ा तो बना ही सकते हैं, साथ ही उसे क्रीमी रूप के अलावा मीठा स्वाद भी दे सकते हैं।

वहीं, इटेलियन्स का भी ठंडी कॉफी बनाने का अपना ही एक नया तरीका है, जिसे बनाने के लिए वक़्त की नहीं बल्कि अच्छे कार्य और योग्यता की ज़रूरत है। ‘कैफ़े इन घीयाचियो' के नाम से जानी जाने वाली ठंडी कॉफी, गर्म ब्रयू, बर्फ, चाश्नी और दूध को मिलाकर बनाई जाती है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले हल्का गर्म ब्रयू लें। इसके बाद इसमें चीनी का घोल मिलाएं। साथ ही बर्फ डालकर अच्छी तरह शेक करें। ध्यान रहे, आपको इसमें कुटी हुई बर्फ नहीं, बल्कि बर्फ के चकोर साबुत टुकड़े डालने हैं।



फायदे ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकती है अलसी, खाएं तो जरा संभल कर...
कश्मीर से लेकर कन्या कुमारी तक, भारत में बनने वाली 10 मज़ेदार व्यंजनों की विधियां
ओट्स खाने के हैं कई फायदे, होता है वजन कम...
Garam Masala Benefits: मसालों का यह लजीज मेल आपकी सेहत के लिए भी है फायदेमंद



ग्रीस स्टाइल की कॉफी बनाने के लिए आपको थोड़ा इंतज़ार करना पड़ेगा, जिसे लोग फ्रैपी के नाम से भी जानते हैं। इसके अच्छे दिखने का राज़ फ्रैपी के ब्लेंड करने के तरीके में छिपा है। इसे तब तक ब्लेंड करते रहे, जब तक इसके झाग ग्लास के किनारे तक न दिखने लगे। इसे बनाने के लिए सबसे पहले इंस्टेंट कॉफी लें। इसके बाद इसमें दो से तीन चम्मच ठंडा पानी और चीनी मिलाएं। इन दोनों ही चीज़ों को तब तक शेक करते रहे, जब तक कॉफी का फोम न बनने लगे। फिर इसमें थोड़ा बर्फ का पानी मिलाएं। साथ ही दूध डालकर दोबारा शेक करें। इसे बनाने के लिए आप शेक करने की जगह ब्लेंडर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

Commentsउमीद करते हैं कि दिए गए सभी तरीके और विधि आपको गर्म और ठंडी दोनों ही तरह की कॉफी बनाने में मदद करेंगे। साथ ही आप कॉफी बनाने के सही तरीके को अपना पाएंगे।

 

और खबरों के लिए क्लिक करें.
 



NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Related Recipe

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement