Janmashtami 2020: जन्माष्टमी पर भोग के लिए घर पर आसानी से बनाएं धनिया, आटा की पंजीरी और पंचामृत, देखें रेसिपी वीडियो

Janmashtami 2020: बहुत ही मजेदार और उत्साह के साथ भारत 11 अगस्त 2020 को जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) का त्यौहार मनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है. पंजीरी (Panjiri) भगवान कृष्ण को जन्माष्टमी पर दिए जाने वाले सबसे महत्वपूर्ण प्रसादों में से एक है. यहां बताया गया है कि आप इसे कैसे बना सकते हैं.

  |  Updated: August 09, 2020 17:57 IST

Reddit
Janmashtami 2020: Easily Make Dhaniya, Aata Panjiri And Panchamrit For Bhog On Janmashtami, Watch Recipe Video

Janmashtami 2020: कृष्ण जन्माष्टमी पर प्रसाद या भोग के लिए घर पर बनाएं ये तीन रेसिपी

Highlights
  • कृष्ण जन्माष्टमी पर भगवान को पंजरी और पंचामृत का लगाएं भोग.
  • यहां हैं दो आसान आटा और धनिया पंजरी रेसिपी.
  • भारत 11 अगस्त 2020 को जन्माष्टमी का त्यौहार मनाने के लिए तैयार है.

Janmashtami 2020: यह साल का वह समय है जब भारत एक के बाद एक त्योहारों में रमा होता है. तीज, ईद और रक्षा बंधन के बाद, जन्माष्टमी (Janmashtami) का त्योहार आता है. इस साल, जन्माष्टमी 11 अगस्त, 2020 को मनाई जाएगी. बहुत ही मजेदार और उत्साह के साथ भारत 11 अगस्त 2020 को जन्माष्टमी (Janmashtami 2020) का त्यौहार मनाने के लिए पूरी तरह से तैयार है. भारतीय कैलेंडर के प्रमुख त्योहारों में से एक, जन्माष्टमी भगवान कृष्ण गोपाल की जयंती है - जो भगवान विष्णु के आठवें अवतार हैं. जन्माष्टमी को हर साल गोकुलाष्टमी के रूप में भी जाना जाता है, भक्त कृष्ण को मनाने और उनकी पूजा करने के लिए मंदिरों में जाते हैं. दुनिया भर के हिंदू इस दिन को अपने अनूठे तरीकों से मनाते हैं. माना जाता है कि भगवान कृष्ण को कुछ खास भोजन पसंद हैं. हम सभी ने माखन मिश्री में लिप्त होने की अनगिनत कहानियां सुनी हैं और जानते हैं कि उन्हें मिठाई से कैसे प्यार था, और इस प्रकार, उनके भक्त अपने नन्हे गोपाल को खुश करने के लिए कुछ भी नहीं छोड़ते हैं. 



जबकि कई लोग इस दिन व्रत करते हैं, वे प्रसाद के साथ कृष्ण को 'छप्पन भोग' भी चढ़ाते हैं. इस थाली में मिठाई, नमकीन व्यंजनों के 56 आइटम होते हैं, जिनमें खीर, पंचामृत, पंजिरी और हलवा शामिल हैं. कृष्ण जन्माष्टमी के दिन बने सबसे महत्वपूर्ण प्रसादों में से एक पंजिरी है. चीनी और घी में तले हुए गेहूं के आटे के साथ बनाया गया एक पूरक पोषण है जो मेवे के साथ बनाया जाता है. कुछ लोग आटे की जगह धनिया की भी पंजीरी बनाते हैं. 

आज हम आपके लिए कृष्ण जन्माष्टमी पर भोग लगाने के लिए बनाई जाने वाली तीन खास चीजें, आटा पंजरी, धनिया पंजीरी और पंचामृत की रेसिपी लेकर आए है.  जिसे काफी आसानी से आप घर पर बना सकते हैं. इस रेसिपी को यूट्यूबर संगीता ने अपने यूट्यूब चैनल 'मेरी रेसिपी' पर शेयर किया है. चलो एक नजर डालते हैं!







आटे की पंजीरी बनाने के लिए आपको एक कटोरी आटा, आधा कटोरी चीनी, 3 से 4 चम्मच घी, आधा कटोरी मखाना, 6-7 काजू, बाद और किशमिश, कसा हुआ नारियल चाहिए होगा. पंजरी बनाने के लिए आपको गर्म पैन में एक चम्मच घी डालें. धी में काजू, बादाम को डालकर भूनें. मखाने को 2 हिस्सों में कर लें. पैन में अब किशमिश डालें और तीनों को कलर बदलने पर बाहर निकाल लें. इसी पैन में अब मखाने को भूनें. अब इसी पैन में आप कद्दूकस किया हुआ नारियल डालें और रंग बदलने भूनें.

नारियल को एक कटोरी में निकाल लें और पैन में घी और आटा डालें और इसको ब्राउन होने तक भूनें. इसको ठंडा करें और इसमें पीसी हुई चीनी, मखाना, नट्स और नारियल को डालकर मिक्स कर लें. आपकी आटा पंजरी तैयार है. आखिर में ऊपर से तुलसी का पत्ता डालकर भोग लगाएं.



धनिया पंजीरी बनाने के लिए आटे की जगह धनिया का इस्तेमाल करें और ऊपर बताई गई रेसिपी के अनुसार ही बनाएं. 

पंचामृत नाम से ही स्पष्ट है कि यह पांच चीजों के मिश्रण से बनाया जाता है. इसके लिए दही, दूध, शहद, चीनी और घी से बनाया जाता है. इसे बनाने के लिए आप सबसे पहले दही को फेंट लें और उसमें दो चम्मच चीनी, दूध, शहद, घी डालें और मिक्स कर लें. आप इसमें मखाना और तुलसी के पत्ते भी डाल सकते हैं. 

पंजरी और पंचामृत को व्रत वाले लोग भी खा सकते हैं साथ ही यह सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद माने जाते हैं. 

फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहिए



Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com





Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

संबंधित रेसिपीज

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement