Karwa Chauth 2018: तिथि, पूजा विधि, चांद निकलने का समय, शुभ मुहूर्त और स्पेशल फूड

अनिता शर्मा  |  Updated: October 26, 2018 17:10 IST

Reddit
Karwa Chauth 2018: Date, Puja Timings, Significance, Celebrations And Feast

Karwa Chauth 2018 Date: हर साल कार्तिक मास के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी (Krishna Paksha Chaturthi) को करवा चौथ (Karwa Chauth) मनाया जाता है. भारतीय महिलाएं इस दिन अपने पति की लंबी उम्र के लिए उपवास रखती हैं. तो अगर आप भी यह सर्च कर रहे हैं कि करवा चौथ कब है, तो आपको बता दें कि इस साल करवा चौथ 27 अक्टूबर 2018 को है. इस दिन शनिवार है. ज्यादातर महिलाएं इस दिन निराजल व्रत (Nirjala fast, without food and water) रखती हैं. और रात को चांद की पूजा के बाद ही पति के हाथों जल ग्रहण करती हैं. करवा चौथ का खास दिन पति-पत्नी के बीच प्यार और अपनेपन की एक अलग मिठास घोल देता है. इससे करवा चौथ और भी शुभ हो गया है. तो चलिए एक ही लेख में आपको बताते हैं आपको करवा चौथ की तिथि (Date of Karwa Chauth), पूजा विधि, चांद निकलने का समय और शुभ मुहूर्त. (Read- 

करवा चौथ के बाद दिवाली (Diwali 2018) का त्योहार मनाया जाता है. दीपों का त्योहार दीपावली या दिवाली हिंदू धर्म में एक बड़ा त्योहार है. अगर आप सोच रहे हैं कि दिवाली कब है (When is Diwali 2018), तो हम आपको बता दें कि साल 2018 में दिवाली 7 नवंबर को भारत के ज्यादातर हिस्सों में मनाई जा रही है. वहीं कुछ भागों में जैसे कि दक्षिण भारत के कर्नाटक, केरला और तमिलनाड़ू में दिवाली 6 नवंबर को मनाई जाएगी. इसके साथ ही सिंगापुर में रहने वाले भारतीय भी इन तीन राज्यों के साथ ही दिवाली मनाएंगे यानी सिंगापुर (Diwali in Singapore) में भी 6 नवंबर को ही दिवाली मनाई जाएगी. दिवाली का यह पर्व पूरे पांच दिनों तक चलता है. इन पांच दिनों में धनतेरस (Dhanteras), छोटी दिवाली (Chhoti Diwali), बडी दिवाली (Badi Diwali), गोवर्धन पूजा (Govardhan Pooja) और भाई दूज (Bhai Dooj) आते हैं. आमतौर पर यह त्योहार अक्टूबर या नवंबर में ही आता है.  (Read- Diwali 2018: दीपावली तिथि, लक्ष्मी पूजन मुहूर्त, पूजन विधि, लक्ष्मी आरती और स्पेशल फूड

इस त्योहारी सीजन में फिट रहने के लिए आपके काम आएंगे ये टिप्‍स‌‌‌‌‌‌...

करवा चौथ 2018 तिथि, पूजा विधि और चांद निकलने का समय - Karwa Chauth 2018 Date, Puja Vidhi and Timings

 

चांद निकलने का समय 

इस दिन महिलाएं पूरे दिन उपवास रखती हैं और शाम को पूजन करने के बाद चांद को देखकर ही व्रत खोलती हैं. कहते हैं कि चांद को देखने के बाद अगर पति के हाथों से पानी ग्रहण किया जाए तो पति पत्नी जन्म जन्मांतर तक चलते हैं. जैसा कि हम सब जानते हैं कि करवाचौथ का व्रत चांद से जुड़ा है तो इस दिन सबकी नजर इस बात पर रहती है कि चांद कब निकलेगा. चलिए आपको बताते हैं कि करवा चौथ 2018 में चांद निकलने का समय क्या है. तो आपको बता दें कि करवा चौथ 2018 में भी हमेशा की तरह चंद्रोदय यानी चांद के दर्शन करने के बाद के ही जल ग्रहण करें. चांद दिखने का समय रात में 7 बजकर 55 मिनट बताया जा रहा है.
 





karwachauth

Karwa chauth 2018: करवा चौथ के दिन सुहागनें सोलह श्रृंगार करती हैं.

 





करवा चौथ की पूजा विधि: 

करवा चौथ के दिन सुहागनें सोलह श्रृंगार करती हैं. सोलह श्रृंगार में सिंदूर, मांग टीका, बिंदी, काजल, नथ, कानों में कर्णफूल, मंगलसूत्र, कमरबंद, अंगूठी, बाजूबंद, गजरा, मेहंदी, चूड़ी, चुनरी, बिछिया और पायल आते हैं. (Read- )

kheer

Karwa chauth 2018: यह अवधि तकरीबन एक घंटे और 17 मिनट की है.

 

करवा चौथ का शुभ मुहूर्त - Karwa Chauth Muhurat

यह अवधि तकरीबन एक घंटे और 17 मिनट की है. जो शाम 05 बजकर 36 मिनट से 06 बजकर 53 मिनट तक है (17:36 से 18:53 तक). 

 





करवा चौथ पर चांद निकलने का सयम - Karwa Chauth Moon Rise Time

चांद निकलने का समय - शाम 8.00 (20:00) बजे निकलेगा चांद 
चतुर्थी तिथि शुरू होगी (Chaturthi Tithi begins)-  27 अक्टूबर शाम 06:37 से
चतुर्थी तिथि समाप्त होगी (Chaturthi Tithi ends) - 28 अक्टूबर, शाम 4.45 बजे 

Karwa Chauth 2018 - खाने में क्या हो स्पेशल, सेहत का यूं रखें ध्यान

करवा चौथ के दिन हर विवाहित महिला व्रत रखती है. वह भी पूरा दिन निर्जल रहकर. ऐसे में यह जरूरी हो जाता है कि जब वह शाम को व्रत खोले तो सही आहार ले. नहीं तो सेहत को नुकसान और परेशानी झेलनी पड़ सकती है.

- इस दिन सुबह-सुबह सबसे पहले सास के हाथ की सरगी (Sargi on Karwa Chauth) लेकर ही व्रत की शुरुआत की जाती है. तो इस बात का ध्यान रखें कि व्रत के दौरान क्योंकि आप अनाज नहीं खाते इसलिए जरूरी है कि आप संतुलित भोजन लें. 
- अगर आप ज्यादा तला-भुना, मीठा या बिना नमक का खाना ले रहे हैं तो यह आपको ब्लडप्रेशर से जुड़ी समस्या दे सकता है. इतना ही नहीं यह वेट गेन और शुगर को भी प्रभावित कर सकता है. ठीक इसके उलट अगर आप सिर्फ फ्रूट्स खाते हैं और पानी कम पीते हैं तो कब्ज या शारीरिक कमजोरी महसूस हो सकती है. 
व्रत खोलते समय कम मसाले और कम तली भूनी चीजों का इस्तेमाल करें. व्रत खोलते समय ऐसा खाना खाएं जिसे आप आसानी से पचा सकें.
- सरगी में या व्रत के दौरान ज्यादा मात्रा में चाय या कॉफी न लें. इससे आपके पेट में दर्द या जलन हो सकती है. इतना ही नहीं यह सीने में जलन और खट्टी डकार जैसी परेशानी भी पैदा कर सकते हैं.
- शाम के खाने में आप हलवा, खीर, पूरी, मठरी, मेथी मठरी, छोले, चाट, दही भल्ला, पुलाव या दूसरी लजीज चीजें तैयार कर सकते हैं. 

Happy Karwa Chauth 2018!

Read- 

Ashwagandha Side Effects: इन 8 लोगों को नहीं खाना चाहिए अश्वगंधा, अश्वगंधा के नुकसान

इस त्योहारी सीजन में फिट रहने के लिए आपके काम आएंगे ये टिप्‍स‌‌‌‌‌‌...

कैसे रोकें उल्टियां, ताकी ट्रैवल के दौरान न हो परेशानी, 7 घरेलू नुस्खे

Weight Loss: इन 3 असरदार Diet Tips से वजन कम होगा, गायब हो जाएगा बैली फैट...

Weight loss: वजन घटाने में मदद करेगा इलायची का पानी, इलायची के फायदे

अगर अच्छी नींद चाहिए, तो सोने से पहले खाएं ये 5 आहार...

Diabetes: कैसे आंवला करेगा ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल, आंवला के फायदे

फायदे ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकती है अलसी, खाएं तो जरा संभल कर...

कश्मीर से लेकर कन्या कुमारी तक, भारत में बनने वाली 10 मज़ेदार व्यंजनों की विधियां

ओट्स खाने के हैं कई फायदे, होता है वजन कम...

Garam Masala Benefits: मसालों का यह लजीज मेल आपकी सेहत के लिए भी है फायदेमंद

Comments

 



NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement