एंटी-बायोटिक रेसिस्टेंट से लड़ने का नया तरीका ईजाद : अध्ययन

   |  Updated: January 20, 2016 12:59 IST

Reddit
Light Powered Nanotherapy Has Made To Fight Drug Resistent Bacteria In Hindi
ड्रग रेसिस्टेंट बैक्टीरिया के खिलाफ लड़ने के लिए लाइट-पावर्ड नैनोथेरेपी का निर्माण किया गया है। ये सुपरबग्स जैसे एंटी-बायोटिक रेसिस्टेंट को असफल करने में मदद करेगी। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस विधि में प्रयोग होने वाले लाइट-पावर्ड चिकित्सीय नैनोपार्टिकल्स को क्वांटम डॉट्स भी कहा जाता है। यह डॉट्स मानवों के बालों से 20 हजार गुना छोटे होते हैं। यह उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स में इस्तेमाल होने वाले सेमीकंडक्टर्स के समान लगते हैं।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

लेब के वातावरण में यह 92 प्रतिशत दवा प्रतिरोधी जीवाणु कोशिकाओं को नष्ट करने में सक्षम हैं। अमेरिका की कोलोरैडो बाउल्डर यूनिवर्सिटी में सहायक प्रोफेसर और इस अध्ययन के सह-लेखक भारतीय मूल के प्रशांत नागपाल ने बताया कि “इन सेमीकंडक्टर्स के नैनोस्केल के सिकुड़ने से कोशिकाओं में एक विशिष्ट प्रतिक्रिया उत्पन्न की जा सकती है, जो केवल संक्रमित स्थानों को ही टार्गेट करेगी”।
Newsbeep
हल्की एक्टिविटी के गुणों की वजह से यह क्वांटम डॉट्स कई विशिष्ट इंफेक्शन के इलाजों में प्रयोग किए जा सकते हैं।

Commentsयह शोध पत्रिका 'नेचर मटीरियल्स' में प्रकाशित हुआ है।

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement