Happy Mahashivaratri 2018: जानिए महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त और शिव पूजा विधि

एनडीटीवी फूड डेस्क  |  Updated: August 06, 2018 12:21 IST

Reddit
Mahashivaratri 2018: Here's The Puja Timings and Puja Vidhi For The Festival

Happy Mahashivaratri 2018: महाशिवरात्रि एक हिन्दू त्योहार है

Highlights
  • महाशिवरात्रि को 'भगवान शिव की महान रात' के रूप में मनाया जाता है.
  • हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, यह पर्व फाल्गुन के महीने में मनाया जाता है.
  • इस साल महाशिवरात्रि 13 फरवरी 2018 को मनाई जाएगी.
महाशिवरात्रि एक हिन्दू त्योहार है जो हर साल भगवान शिव के भक्तों द्वारा मनाया जाता है. महाशिवरात्रि का पर्व आमतौर पर फरवरी या मार्च के महीने में मनाया जाता है. महाशिवरात्रि को 'भगवान शिव की महान रात' के रूप में मनाया जाता है. हिन्दू कैलेंडर के अनुसार, यह पर्व फाल्गुन के महीने में मनाया जाता है. यह पर्व अंधकार और अज्ञान की हार का प्रतीक है. इस साल महाशिवरात्रि  2018 13 फरवरी 2018 को मनाई जाएगी. इस दिन भगवान शिव के भक्त मंत्र उच्चारण, उपवास
के साथ भगवान शिव का ध्यान करते हैं.


आलू के साथ समोसा हुआ पुराना, अब ट्राई करें ये 6 लजीज समोसे


रोज खाएंगे 1 संतरा तो आंखों को होंगे अनेक फायदे...
रात में दूध पीना पुरुषों के लिए होता है इतना फायदेमंद


रोजाना दूध के साथ खाएं गुड़, होंगे ये गुणकारी फायदे


महाशिवरात्रि 2018 का शुभ मुहूर्त


महाशिवरात्रि का शुभ मुहूर्त 13 फरवरी की आधी रात से शुरू होकर 14 फरवरी तक रहेगा. इस दिन भगवान शिव का पूजन सुबह 7.30 से लेकर दोपहर 3.20 तक किया जाएगा. रात्रि के समय भगवान शिव का पूजन एक से चार बार किया जाएगा, यह बात भक्तों पर निर्भर करती है. पारपंरिक रूप से पूजा करने के उपरांत अगली सुबह स्नान के बाद व्रत खत्म हो जाएगा.


महाशिवरात्रि 2018 पूजा विधि


महाशिवरात्रि का उपवास रखने की प्रथा काफी सालों से चली आ रही है लेकिन समय के साथ उपवास करने का तरीका थोड़ा बदल गया है. व्रत वाले दिन भक्त सुबह जल्दी उठकर स्नान आदि के बाद पास के किसी शिव मंदिर में जाकर भगवान शिव की मूर्ति की पूजा करते हैं ताकि भगवान शिव की कृपा सदैव उनपर बनी रहे. भगवान के दर्शन करने की यह प्रक्रिया दोपहर तक चलती है उसके बाद मंदिर को बंद कर दिया जाता है और शाम को एक बार फिर दर्शन के लिए मंदिर के कपाट खोले जाते हैं. इस मौके पर मंदिरों में भगवान शिव की मूर्तियों का अभिषेक किया जाता है. यह अभिषेक दूध, गुलाब जल, चंदन, दही, शहद, चीनी और पानी जैसी विभिन्न सामग्रियों से किया जाता है.

 
shivling

इस दिन शिवलिंग का अभिषेक किया जाता है.

Soups For Weight Loss: वेट लॉस प्रोग्राम में इन रेसिपी को जरूर एड करना चाहेंगे आप

10 Dates Benefits: हड्डियों की मजबूती से लेकर त्वचा की खूबसूरती तक खजूर के 10 फायदे

Garam Masala Benefits: मसालों का यह लजीज मेल आपकी सेहत के लिए भी है फायदेमंद

Natural Lip Scrubs: फटे होंठों से छुटकारा दे सकते हैं ये स्‍क्रब


इसके अलावा शिवलिंग पर बिल्वपत्र, बेर, बेलपत्र का फल और धतुरा चढ़ाया जाता है. भक्त पूरे दिन का उपवास करते हैं और इसी दिन फल और जूस के अलावा अन्न का सेवन नहीं करते. कुछ भक्त पूरा दिन उपवास के दौरान कुछ नहीं खाते. वहीं कुछ भक्त रात्रि में पूजन से पहले सांयकाल में भोजन कर लेते  हैं.  तो इस साल आप भी महाशिवरात्रि का व्रत करके भगवान शिव को प्रसन्न करें और उनका आशीर्वाद प्राप्त करें.

Commentsकैसे होता है ग्रहण, क्या हैं इससे जुड़ी प्रथाएं... जानें इस दौरान क्या खाएं और क्या नहीं...

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement