पैदा हुए बच्चे के लिए ‘सुरक्षागार्ड’ का काम करता है मां का दूध

इंडो-एशियन न्यूज़ सर्विस की रिपोर्ट  |  Updated: August 31, 2016 12:55 IST

Reddit
Mother's Milk Works Like A Suraksha Gaurd For A Newly Born Child In Hindi
कहा जाता है कि पैदा हुए बच्चे के लिए मां का दूध काफी लाभकारी होता है। उसमें मौजूद पोषक तत्व उसे एनर्जी देने का काम करते हैं। सिर्फ यही नहीं, मां का दूध बच्चे को बीमारियों से लड़ने की भी शक्ती देता है। ऐसा मां के दूध में पाए जाने वाले एक ख़ास किस्म के सूक्रोज़ और चीनी की वज़ह से होता है। यह पदार्थ नवजात को एक बेहद खतरनाक जीवाणु के जानलेवा संक्रमण से बचाता है।

एक नए अध्ययन में इस बात का खुलासा हुआ है। अध्ययन में पाया गया कि मां के दूध में पाया जाने वाला एक खास किस्म का सूक्रोज़ ‘लैक्टो-एन-डिफ्यूकोहेक्सोज 1’ नवजातों में मेनिनजाइटिस (मस्तिष्क ज्वर) व अन्य खतरनाक संक्रमण के लिए जिम्मेदार आई ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस बैक्टीरिया को खत्म करता है।वैसे शिशु जिनकी मां के दूध में लैक्टो-एन-डिफ्यूकोहेक्सोज होता है, उनके शरीर में मौजूद जीवाणु जन्म के 60-89 दिनों के भीतर खत्म हो जाते हैं। ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस बैक्टीरिया स्वाभाविक तौर पर तीन गर्भवती महिलाओं में से एक की योनि तथा पेट में पाया जाता है। यह बच्चे के जन्म के समय या मां के दूध के सहारे बच्चे के शरीर में दाखिल होकर संक्रमण पैदा करता है।

मां के दूध में मौजूद ओलिगोसैकेराइड्स पचता नहीं है, बल्कि यह बच्चे की आंत में मौजूद गुड बैक्टीरिया के लिए खाद्य पदार्थ का काम करता है। अध्ययन के मुताबिक, मां के दूध में मौजूद सूक्रोज़ और चीनी गुड बैक्टीरिया के पोषण में मदद करता है और हानिकारक बैक्टीरिया का सफाया करता है। इंपीरियल कॉलेज लंदन के स्नातकोत्तर छात्र व अध्ययन के मुख्य लेखक निकोलस आंद्रियास का कहना है कि “अध्ययन में यह बात सामने आई है कि मां के दूध में मौजूद ह्यूमन मिल्क ओलिगोसैकेराइड्स, रोटावायरस तथा ग्रुप बी स्ट्रेप्टोकोकस के संक्रमण से भी बचाव करता है”।

Comments(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement