Sawan 2019: क्या है पंचामृत का महत्व, जानें इसे घर पर बनाने की विधि

सावन (Sawan ka Mahina 2019) का महीना शुरू हो गया है. इस साल सावन का महीना 17 जुलाई से 15 अगस्त रहने वाला है. श्रावण मास को बहुत ही शुभ माना जाता है. दरअसल, इस महीने को भगवान शिव की अराधना के रूप में देखा जाता है.

NDTV Food Hindi  |  Updated: August 01, 2019 15:21 IST

Reddit
sawan 2019: importance of panchamrit and how to make it at home

सावन शिवरात्रि 2019: भगवान को पंचामृत (Panchamrit) भी चढ़ाया जाता है.

Highlights
  • श्रावण मास को बहुत ही शुभ माना जाता है.
  • इस महीने को भगवान शिव की अराधना के रूप में देखा जाता है.
  • काफी लोग हर सोमवार को उपवास भी करते हैं.

सावन (Sawan 2019) का महीना शुरू हो गया है. इस साल सावन का महीना 17 जुलाई से 15 अगस्त रहने वाला है. श्रावण मास को बहुत ही शुभ माना जाता है. दरअसल, इस महीने को भगवान शिव की अराधना के रूप में देखा जाता है और ऐसा कहा जाता है कि इस समय भगवान शिव और पार्वती की पूजा करने से हर इच्छा पूरी होती है. इसलिए हर कोई अपने अराध्य को प्रसन्न करने के लिए विभिन्न तरह से पूजा करता है काफी लोग हर सोमवार को उपवास भी करते हैं. यह वही महीना है जब बहुत से शिव भक्त कावंड लेकर जाते हैं और गंगाजल लाने के बाद उनका अभिषेक करते हैं. इस बार 30 जुलाई को सावन शिवरात्रि मनाई जाएगी. हर साल की तरह ही भगवान शिव का रुद्राभिषेक किया जाएगा. मान्यता है कि रुद्राभिषेक करने से भोलेनाथ प्रसन्न होते हैं. भोलेनाथ को प्रसन्न करने के लिए उनके भक्त फल, फूल, दूध, दही और बेल पत्र चढ़ाते हैं. 

इसके अलावा, भगवान को पंचामृत (Panchamrit) भी चढ़ाया जाता है जिसे बाद में भक्तों को प्रसाद के रूप में दिया जाता है. पंचामृत को अधिकांश हिंदू पूजाओं में एक महत्वपूर्ण प्रसाद के रूप में बनाया जाता है साथ ही इसे देवताओं को प्रसन्न करने वाला भी माना जाता है. यह पांच चीजों से मिलकर बनता है इसलिए इसका नाम पंचामृत है. इसे एक स्वस्थ पेय माना जाता है जो शरीर को शुद्ध करता है. पंचामृत को चरणामृत भी कहा जाता है.

Sawan 2019: अगर सावन में आप भी बनाते हैं बिना लहसुन-प्याज का खाना तो ये रेसिपीज़ आएंगी काम

घर पर कैसे बनाएं पंचामृत:

पंचामृत को बनाना बहुत ही आसान है, इसे दूध, दही, घी, शहद और चीनी से मिलाकर बनाया जाता है. उत्तर भारत में यह एक लोकप्रिय प्रसाद है जिसे शिवरात्रि के अलावा जन्माष्टमी जैसे कई अवसरों पर भी बनाया जाता है. 

पंचामृत बनाने की विधि:

सामग्री
5 बड़े चम्मच दही
1 कप दूध
1 छोटा चम्मच शहद
1 छोटा चम्मच घी
1 बड़ा चम्मच पीसी हुई चीनी

भिंडी खाने के हैं शौकीन तो ट्राई करें भिंडी दो प्याजा की यह स्वादिष्ट रेसिपी

तरीका

आपको बस एक बड़े कटोरे में इन सभी को अच्छी तरह मिलाकर एक मिश्रण तैयार करना है. आप चाहे तो इसे तुलसी के पत्तों से गार्निश भी कर सकते हैं.
इस मिश्रण को देवता को चढ़ाएं और फिर इसे प्रसाद के रूप में बांटें. इन सभी पांच सामग्रियों का कुछ महत्व है-

दूध पवित्रता का प्रतीक है
शहद मिठास के लिए है
घी जीत के लिए है
चीनी खुशी के लिए है
दही समृद्धि और संतान के लिए है

और खबरों के लिए क्लिक करें.

ये भी पढ़ें -

Summer Diet Tips: पेट की गैस, पाचन और पेट की समस्याओं को दूर करेगा खीरा, पढ़ें खीरा के फायदे

Broccoli Recipe Video: बड़े हों या छोटे, सभी को पसंद आएंगी ब्रॉकली से बनी ये रेसिपीज़

Healthy Diet: हाई-प्रोटीन का स्रोत है यह शाकाहारी रेसिपी, पढ़ें सोया भुर्जी की विधि

यह हैं टॉप 10 प्रोटीन बेस्‍ड फूड, जिन्हें आप रोजाना खा सकते हैं

7 Best Easy Lauki Recipes: लौकी को इस तरह बनाएं दिलचस्प और आज से ही खाने में करें शामिल

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement