Sawan 2019: सावन व्रत में इस तरह नमकीन और मीठे व्यंजन

सावन का महीना (Sawan 2019)भगवान शिव को समर्पित है, इसे श्रावण मास (Shravan month) भी कहा जाता है. इस साल सावन की शुरूआत 17 जुलाई से हो रही है जोकि 15 अगस्त जारी रहेगा.

NDTV Food Hindi  |  Updated: July 29, 2019 16:12 IST

Reddit
sawan 2019: try these vart/fast recipes in this shravan
Highlights
  • व्रत रखने के सबके अपने नियम और परंपरा है.
  • कुछ लोग मीठा खाना पसंद करते हैं तो कुछ लोग नमकीन.
  • व्रत में लोग अक्सर सेंधा नमक का इस्तेमाल करते हैं.

सावन का महीना (Sawan in 2019)भगवान शिव को समर्पित है, इसे श्रावण मास(Shivratri)भी कहा जाता है. सावन की शुरूआत 17 जुलाई से हो हो गई है जोकि 15 अगस्त जारी रहेगा. हिन्दुओं के लिए सावन के महीने का विशेष महत्व हैं और इन दिनों मंदिरों में भक्तों की काफी भीड़ देखने को मिल रही है. सावन महीने के हर सोमवार को व्रत रखने का प्रावधान है और भगवान शिव के भक्त पूरे भक्ति भाव के साथ उनकी पूजा अर्चना करते हैं. मंदिरों भी भक्तों की काफी भीड़ देखी जाती है. ऐसा माना जाता है कि इस दौरान महादेव की पूजा करने से हर मनोकामना पूरी होती है. धार्मिक कथाओं के मुताबिक, माना जाता है कि देवी पार्वती भगवान शिव से विवाह करना चाहती थीं और इसके लिए उन्होंने सावन के पूरे महीने उपवास किया. उनकी भक्तिभावना से प्रसन्न होकर भगवान शिव ने उनकी इच्छा पूरी की. इसलिए कहा जाता है कि सावन में सोमवार का व्रत करने से कुवांरी कन्याओं को मनचाहा वर मिलता है. इसी वजह से शिव भक्त पूरे विधि-विधान के साथ व्रत रखते है ताकि उनकी हर इच्छा पूरी हो सके. इस व्रत में सुबह स्न्नान आदि के बाद भक्त भोलेनाथ का फल-फूल, दूध और जल के साथ अभिषेक करते हैं और पूरा दिन उपवास करने के बाद ही शाम को आहार ग्रहण करते हैं.
Sawan 2019: क्या है पंचामृत का महत्व, जानें इसे घर पर बनाने की विधि

व्रत रखने के सबके अपने नियम और परंपरा है, कुछ लोग मीठा खाना पसंद करते हैं तो कुछ लोग नमकीन. इसी बात को ध्यान में रखकर हमने व्रत में खाए जाने वाले व्यंजनों की एक लिस्ट तैयार की हैं. व्रत में लोग अक्सर सेंधा नमक का इस्तेमाल करते हैं और ये सभी व्यंजन भी इसी से तैयार किए गए है जिन्हें आप आराम से बनाकर खा सकते हैं.

तो चलिए एक नजर डालते हैं इन रेसिपीज़ पर:

कच्चे केले की टिक्की

कच्चे केले की टिक्की एक अवधी डिश है, जिसे आप व्रत के दौरान खा सकते हैं. कच्चे केले में लाल मिर्च, धनिया पाउडर और सेंधा नमक डालकर इस स्वादिष्ट स्नैक को तैयार किया जाता है. इस स्वादिष्ट टिक्की को आप मूंगफली की चटनी के साथ सर्व कर सकते हैं. कच्चे केले की टिक्की को आप शाम चाय या फिर डिनर में स्नैक के तौर पर सर्व कर सकते हैं.

कुट्टू की पूरी 

नवरात्रि, शिवरात्रि और एकादशी के व्रत में एकदम सात्विक भोजन खाया जाता है. व्रत के दौरान कुट्टू के आटे का सेवन किया है. व्रत के दौरान कुट्टू के आटे से कई तरह के पकवान बनाएं जा सकते हैं लेकिन आज हम आपको कुट्टू के आटे की पूरी की रेसिपी बताने जा रहे हैं. कुट्टू के आटे में आलू और सेंधा नमक मिलाकर पूरी बनाकर इसे डीप फ्राई किया जाता है. कुट्टू की पूरी खाने से शरीर में गर्मी उत्पन्न होती है इसलिए कुट्टू की पूरी को दही के साथ खाया जाता है.

Sawan 2019: अगर सावन में आप भी बनाते हैं बिना लहसुन-प्याज का खाना तो ये रेसिपीज़ आएंगी काम
 

व्रत वाले दही आलू

उबले हुए आलूओं को दही की मसालेदार ग्रेवी बनाया जाता है. दही वाले खाने में बहुत ही स्वादिष्ट लगते है. व्रत के दौरान इन्हें बनाते वक्त इसमें सेंधा नमक डाला जाता है और कुट्टू के आटे की पूरी के साथ इस सब्जी को सर्व कर सकते हैं.

साबुदाना खिचड़ी

साबुदाना सबसे ज़्यादा लोग व्रत के समय खाना पसंद करते हैं. इसमें स्टार्च की मात्रा होती है, जो आपका पेट लंबे समय तक भरा रखती है. इसे बनाने के लिए साबूदाना, मूंगफली, कढ़ीपत्ता, सेंधा नमक, साबुत लाल मिर्च, हरी मिर्च की जरूरत होती है.

सिंघाड़े के आटे का हलवा

इस हलवे को व्रत को ध्यान में रखकर बनाया गया है. इस बार आप भी सिंघाड़े के आटे का हलवा ट्राई कर सकते है. यह एक बहुत अच्छा ऑप्शन है और इसे आप कभी भी बनाकर खा सकते हैं. इस हलवे को बनाने के लिए आपको सिर्फ सिंघाड़े के आटे के अलावा घी, चीनी, इलाइची पाउडर और बादाम की जरूरत होती है.

व्रतवाली खीर 

खीर एक ऐसा लाजवाब डिजर्ट है जिसका नाम सुनते ही मुंह में पानी आ जाता है. कई बार व्रत के दौरान आप खीर नहीं खा पाते लेकिन, अब आप चाहें तो व्रत में भी व्रत वाले चावल की खीर बनाकर खा सकते हैं. सामवत के चावल, दूध और चीनी से तैयार किए गए इस इंडियन डिज़र्ट को आप व्रत के अलावा आम दिनों में भी बनाकर खा सकते हैं.

बनाना-वॉलनट लस्सी 

इस लस्सी को बनाने के लिए दही, केले और अखरोट की जरूरत होती है. तिल इस लस्सी के स्वाद को और बढ़ा देते हैं. इसके अलावा इस लस्सी में चीनी की जगह शहद का इस्तेमाल किया गया है. लस्सी पीने के बाद आपका पेट पूरे समय भरा हुआ महसूस होगा.

Sawan 2019: सावन में खांसी, जुकाम और बुखार ठीक करेगा यह नुस्खा, बढ़ाएगा इम्‍यूनिटी
 

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement