डेंगू अगर दोबारा हो, तो इसे न करें नज़रअंदाज

खुशबू विश्नोई द्वारा संपादित  |  Updated: August 04, 2016 12:51 IST

Reddit
Suffering From Dengue Second Time? Then It Could Be Harmful For You In Hindi
अकसर हम न्यूज़ में पढ़ते हैं कि सीज़न में होने वाला बदलाव कई बीमारियां अपने साथ लेकर आता है। इसके चलते लोग बुखार, मलेरिया, डेंगू आदि से जुझते हैं। डेंगू एक ऐसी जानलेवा बीमारी है, जो व्यक्ति को कमजोर बनाते हुए उसकी मौत का कारण भी बन सकती है। अगर आपको पहले डेंगू हो चुका है, तो इसके दूसरे हमले से सावधान रहें, क्योंकि यह पहले से ज़्यादा खतरनाक हो सकता है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

डेंगू की हैं कई सारी किस्मडेंगू चार किस्म का होता है और हर किसी के जीवन में उसे चार बार डेंगू हो सकता है। बार-बार होने वाला डेंगू जानलेवा हो सकता है। डेंगू से पीड़ित व्यक्ति को मलेरिया भी साथ में हो सकता है। यह दोनों मिल कर शरीर में प्लेटलेट्स की संख्या कम कर सकते हैं, जिससे समस्या ज़्यादा बढ़ सकती है। यह जानकारी इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) के मानद महासचिव पद्मश्री डॉ. के. के. अग्रवाल ने बताया कि “डेंगू के मौसम में बुखार आने पर एस्प्रिन नहीं लेनी चाहिए, क्योंकि इससे ब्लीडिंग शुरू हो सकती है”। उन्होंने कहा कि डेंगू होने पर बुखार ठीक होने के दो दिन के अंदर जो भी समस्याएं हों, जैसे पेट में दर्द, चक्कर आना या कमजोरी, तो डॉक्टर के पास जाएं।

Commentsडेंगू में समस्याओं का कारण खून के गाढ़ेपन में बदलाव एक वज़ह हो सकता है। ऐसे में मरीज को काफी मात्रा में तरल पदार्थ लेने की ज़रूरत होती है, साथ ही उसे ड्रिप चढ़ाने की भी ज़रूरत पड़ सकती है। लेकिन ऐसा भी तब तक करने की ज़रूरत नहीं होती, जब तक मूल प्लेट्लेट्स दो प्रतिशत न रह जाएं।
 

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

संबंधित रेसिपी

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement