अब 80 बार कर सकते हैं आप, अपने कुकिंग ऑयल का इस्तेमाल

घर पर पकौड़े तल लेने के बाद, आप कई बार बचे हुए तेल को परांठे सेकने और सब्जी बनाने में इस्तेमाल कर लेते हैं.

  |  Updated: August 11, 2015 11:31 IST

Reddit
The Miracle Cooking Oil that Can be Used Over 80 Times In Hindi

प्रतीकात्मक चित्र

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

घर पर पकौड़े तल लेने के बाद, आप कई बार बचे हुए तेल को परांठे सेकने और सब्जी बनाने में इस्तेमाल कर लेते हैं। लेकिन शोधकर्ताओं ने ताड़ के तेल और प्राकृतिक जड़ी-बूटी के तेल को मिलाकर एक ऐसा तेल उत्पन्न किया है, जिसे करीब 80 बार दोबारा इस्तेमाल में लाया जा सकता है। साथ ही इसके इस्तेमाल से कैंसर और दिल के रोग भी कम किए जा सकते हैं।

यूनिवर्सिटी ऑफ पुत्र, मलेशिया (यू.पी.एम) की टीम ने बताया कि “ए.एफ़.डी.एच.ए.एल कुकिंग ऑयल” को बनाने में वैज्ञानिक रूप से परिभाषित करते हुए ताड़ के तेल और रूटसआई जड़ी-बूटी को मुख्य सामग्री की तरह इस्तेमाल में लाया गया है। सबसे अच्छी बात यह हैं कि फ्राइड खाना, इस तेल को 85 प्रतिशत नहीं सोखता है। साथ ही इसके इस्तेमाल से दिल के रोगों को भी कम किया जा सकता है।

 

ये भी पढ़ें- 

Ashwagandha Side Effects: इन 8 लोगों को नहीं खाना चाहिए अश्वगंधा, अश्वगंधा के नुकसान

इस त्योहारी सीजन में फिट रहने के लिए आपके काम आएंगे ये टिप्‍स‌‌‌‌‌‌...

कैसे रोकें उल्टियां, ताकी ट्रैवल के दौरान न हो परेशानी, 7 घरेलू नुस्खे

Weight Loss: इन 3 असरदार Diet Tips से वजन कम होगा, गायब हो जाएगा बैली फैट...

Weight loss: वजन घटाने में मदद करेगा इलायची का पानी, इलायची के फायदे

अगर अच्छी नींद चाहिए, तो सोने से पहले खाएं ये 5 आहार...

Diabetes: कैसे आंवला करेगा ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल, आंवला के फायदे

फायदे ही नहीं नुकसान भी पहुंचा सकती है अलसी, खाएं तो जरा संभल कर...

सुहैला मौहम्मद ने एक यूनिवर्सिटी के बताते हुए कहा कि “रूटसआई जड़ी-बूटी में प्राकृतिक एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो कि खाने को खराब होने से रोकते हैं। तेल बेकार न जाए, इसलिए आप इसे 80 बार तक इस्तेमाल में ला सकते हैं, वह भी बिना स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचाए”।

Commentsउन्होंने आगे बताते हुए कहा कि इस तेल में एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं। साथ ही इसमें एंटी-हिस्टामीन गुण भी होता है, जो कि फ्राइड खाने में स्वाद और क्वॉलिटी डालने के साथ खराब होने से बचाता है। अगर आप इसके इस्तेमाल से खाना बना रहे हैं, तो यह 15 मि.ली. की काफी कम मात्रा में शामिल किया जाता है। ए.एफ़.डी.एच.ए.एल कुकिंग ऑयल की मुख्य विशेषता यह है कि इस तेल को दुनिया भर में व्यवसायिक रूप से मार्किट में भेज दिया गया है।

 

और खबरों  के लिए क्लिक करें.
 



NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement