विटामिन A की है कमी तो इनका करें सेवन

विटामिन ए की कमी से अंधापन, आंखों में सूखापन, रूखे बाल, सूखी त्‍वचा, बार-बार सर्दी-जुकाम, थकान, कमजोरी, नींद न आना, रतोंधी, निमोनिया और वजन में कमी होने जैसी कई परेशानियां झेलनी पड़ जाती हैं.

Written by: Himanshu Kothari  |  Updated: May 04, 2018 09:26 IST

Reddit
Vitamin A health benefits

विटामिन ए की करें पूर्ति

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

शरीर के लिए विटामिन की आवश्यकता कई मायनों में होती है. शरीर को समय-समय पर विटामिन्स की पूर्ति करते रहना चाहिए. इन्हीं विटामिन्स में विटामिन ए भी शरीर के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है. विटामिन ए त्वचा, हड्डियों और शरीर की अन्य कोशिकाओं को मजबूत रखने में काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. विटामिन ए में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होता है जो कोशिकाओं को क्षतिग्रस्त होने से बचाता है. इसके अलावा विटामिन ए मुक्त कणों को टूटने से रोकता है और हमारे शरीर से सूजन संबंधी समस्या नहीं उत्पन्न होने देता है.इतना ही नहीं इम्यून सिस्टम के कार्यों को बेहतर बनाने और दिल, फेफड़े, किडनी के साथ ही शरीर के दूसरे आवश्यक अंगों के कार्यों को भी सामान्य रखने के लिए विटामिन ए की भूमिका काफी अहम मानी जाती है. अगर शरीर में विटामिन ए की कमी देखने को मिलती है तो इससे शरीर कई समस्याओं से ग्रस्त हो जाता है.
 
विटामिन ए की कमी
विटामिन ए की कमी से अंधापन, आंखों में सूखापन, रूखे बाल, सूखी त्‍वचा, बार-बार सर्दी-जुकाम, थकान, कमजोरी, नींद न आना, रतोंधी, निमोनिया और वजन में कमी होने जैसी कई परेशानियां झेलनी पड़ जाती हैं. ऐसे में इन रोगों से ग्रस्त रहने से बचने के लिए शरीर में विटामिन ए की कमी की पूर्ति करना काफी आवश्यक हो जाता है.

Commentsइनका करें सेवन
सब्जियों और फलों के सेवन से आसानी से विटामिन ए की पूर्ति की जा सकती है. शरीर में विटामिन ए की भरपाई करने के लिए अंडा, दूध, गाजर, पीली या नारंगी सब्जियां, पालक, स्वीट पोटेटो, पपीता, दही, सोयाबीन और दूसरी पत्तेदार हरी सब्जियां का सेवन किया जा सकता है.
 
फूड से जुड़ी अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.
 


NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement