रातभर भिगोए हुए ओट्स और पकाए हुए ओट्स में क्या फर्क होता है? कौन से होते हैं ज्यादा फायदेमंद

Overnight Soaked Oats: रातभर भिगोए हुए ओट्स एक पॉपुलर ब्रेकफास्ट है और इसके स्वास्थ्य लाभ कई गुना हैं, लेकिन क्या आपको रेगुलर इस्तेमाल किए जाने वाले ओट्स और रातभर भिगोकर रखे गए ओट्स में फर्क पता है? अगर नहीं तो यहां जानें...

Translated by: Avdhesh Painuly  |  Updated: May 02, 2020 17:56 IST

Reddit
What Is The Difference Between Overnight Soaked Oats And Cooked Oats? Which Are More Beneficial

ओवरनाइट ओट्स रेगुलर ओट्स से कई मायनों में बेहतर हो सकता है.

Highlights
  • ओवरनाइट ओट्स को दूध, पानी या दही में भिगोया जाता है.
  • भिगोए हुए ओट्स रेगुलर ओट्स की तुलना में ज्यादा लाभ दे सकते हैं.
  • ओट्स को ब्रेकफास्ट का एक हेल्दी विकल्प माना जाता है.

Overnight Soaked Oats: ओवरनाइट ओट्स दुनिया भर में एक नाश्ते की बढ़ती प्रवृत्ति बन गई है. यानि काफी चलन में है. बॉलीवुड सेलिब्रिटीज से लेकर फूड ब्लॉगर्स तक, हर कोई रात भर भिगोए हुए ओट्स (Oats) को अपनाते हैं. यह रेसिपी कई कारणों से नाश्ते के लिए एक व्यापक रूप से लोकप्रिय व्यंजन बन गया है. ओवरनाइट ओट्स (Overnight Oats) के स्वास्थ्य लाभों को बयां नहीं किया जा सकता है. इसके अलावा, ओवरनाइट ओट्स को फल, बीज या आपके कुछ पसंदीदा स्प्रेड और जैम के साथ भी खाया जा सकता है. यह काबिले तारीफ है कि आप सुबह नाश्ते (Mornng Breakfast) के लिए उठते हैं, निश्चित रूप से यह एक अतिरिक्त बोनस है, लेकिन क्या ओवरनाइट ओट्स और रेगुलर पके हुए ओट्स की तुलना में अधिक लाभ प्रदान करता है? हम कहते हैं हाँ!

सबसे पहला अंतर जो दोनों में उभरकर आता है वह यह है कि दोनों को रेसिपी के लिए तैयार किया जा सकता है. रेगुलर ओट्स को जल्दी से किसी भी समय इस्तेमाल किया जा सकता है और यह काफी प्रोसेस्ड होते हैं और लंबे समय तक उपयोग के लिए पैक किए जाते हैं, जबकि ओवरनाइट ओट्स नेचर में ज्यादा कच्चे होते हैं. थम के नियमानुसार ओट्स जितने प्रोसेस्ड होंगे उतने ही कम पौष्टिक होंगे. इसलिए ओवरनाइट ओट्स को एक अच्छा विकल्प माना जाता है. ओवरनाइट ओट्स में फाइबर की काफी मात्रा होती है. जो स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है. इनमें कई विटामिन और खनिज भी होते हैं, जिनमें मैंगनीज, फास्फोरस, मैग्नीशियम, तांबा, आयरन और जस्ता शामिल हैं. यह आपकी आंत के लिए काफी फायदेमंद माने जाते हैं.



tgq2m5pओोवर नाइट ओट्स को फल, सिरप, बीज और जाम के साथ मिलाया जा सकता है



एक और तर्क यह है कि ओवरनाइट ओट्स को रात भर भिगोने के लिए छोड़ दिया जाता है, जिसका अर्थ है कि उनका पोषण कम नहीं होता जैसे पकाए हुए ओट्स का हो जाता है. रातभर भीगोए हुए ओट्स को धीमी आंच पर पकाने की तुलना में, बिना भिगोए हुए ओट्स को पकाकर खाने को स्वास्थ्य के लिए कम फायदेमंद माना जाता है. 

क्या अनानास खाने के बाद आप भी फेंक देते इसके छिलके, फायदे जानकर फेंकना कर देंगे बंद!

लब्बोलुआब यह है कि ओवरनाइट ओट्स रेगुलर ओट्स से बेहतर होते हैं, लेकिन स्वाद का क्या? कुछ लोगों का कहना है कि ओट्स को रात भर भिगोने से उन्हें चबाने वाली बनावट मिलती है और रेगुलर ओट्स यानि बिना भिगोए हुए ओट्स को पकाने पर इसका स्वाद दलिया की तरह होता है. ओट्स में बहुत अधिक शक्कर वाली चीजों को नहीं डालना चाहिए, ताकि शक्कर से उसके स्वास्थ्य लाभ नष्ट न हों. ओवरनाइट ओट्स बनाने का सरल तरीका है कि एक कटोरी में दूध, दही या पानी के साथ जई को भिगोएं और उन्हें रात भर हाइड्रेट रहने दें.

सुबह खाली पेट भीगे हुए चने खाने के तुरंत बाद बिल्कुल न खाएं ये 2 चीजें, हो सकते हैं गंभीर नुकसान! 

अस्वीकरण: सलाह सहित यह सामग्री केवल सामान्य जानकारी प्रदान करती है. यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है. अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने चिकित्सक से परामर्श करें. एनडीटीवी इस जानकारी के लिए ज़िम्मेदारी का दावा नहीं करता है.

फूड की और खबरों के लिए जुड़े रहिए



Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com





Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement