क्यों भारतीयों को कम उम्र में पड़ रहा दिल का दौरा?

भाषा की रिपोर्ट  |  Updated: December 21, 2016 15:12 IST

Reddit
Why Indians Cause From Heart Attack In Less Of Their Age In Hindi
संयुक्त अरब अमीरात के डाक्टरों का कहना है कि अन्य देशों के नागरिकों की तुलना में भारतीयों के आनुवांशिक कारकों की वज़ह से दिल का दौरा पड़ने या मष्तिष्काघात से समय से पहले मर जाने की अधिक संभावना होती है। अबू धाबी में मेडेओर हॉस्पिटल के हृदयरोग चिकित्सक दिनेश बाबू ने कहा कि कई अध्ययनों से संकेत मिला है कि पश्चिमी देशों के नागरिकों की तुलना में भारतीयों की कम उम्र ही इस समस्या के गिरफ्त में आने की संभावना अधिक होती है।

खबर के मुताबिक बाबू ने कहा कि पश्चिमी देशों में आमतौर पर हृदयरोग 60 से 70 साल के उम्रवर्ग के लोगों को होता है, लेकिन भारतीय उपमहाद्वीप में हृदयरोग से 40 और 50 के दशक में लोगों की जान चली जाती है। बाबू ने कहा कि अमेरिका, कनाडा, यूरोप और सिंगापुर में रहने वाले भारतीयों पर अध्ययन से यह स्थापित हुआ है। उन्होंने कहा कि कम उम्र में भारतीयों में हृदयरोग या मस्तिष्काघात की अधिक घटनाएं सामने आई हैं। आंकड़ें  बताते हें कि मस्तिष्काघात और दिल का दौरा समेत हृदयरोग समयपूर्व मौत की दो बड़ी वज़हें हैं। Comments(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com