Dry Fruits: ड्राई फ्रूट्स के फायदे जानकर हो जाएंगे हैरान! जानें कैसे करें मेवे का सेवन!

Dry Fruits: सुबह की शुरुआत नट्स और ड्राई फ्रूट से की जाए तो लाॅन्ग टर्म में यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है. सूखे मेवे में ताजे फलों की अपेक्षा अधिक पौष्टिक मूल्य होते हैं. उनमें जरूरी  विटामिन और खनिज होते हैं जो कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं. नट्स (Nuts) यानी मेवे, से हम सभ अच्छी तरह वाकिफ हैं. डाइट में नट्स बेहद अहम रोल निभाते हैं

   |  Updated: November 24, 2019 17:23 IST

Reddit
You Will Be Surprised By The Amazing Benefits Of Dry Fruits, how to consume nuts, Which dry fruit is best?

Dry Fruits: सुबह की शुरूआत नट्स और ड्राई फ्रूट से करनी चाहिए.

Highlights
  • डाई फ्रूट्स का सेवन करने से हो सकते हैं कई कमाल के फायदे.
  • जानें कैसे करें नट्स का सेवन कि सेहत के लिए हों फायदेमंद.
  • किस ड्राई फ्रूट्स में होते हैं कितने गुण और पौषक तत्व?

Dry Fruits: सुबह की शुरुआत नट्स और ड्राई फ्रूट से की जाए तो लाॅन्ग टर्म में यह सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है. सूखे मेवे में ताजे फलों की अपेक्षा अधिक पौष्टिक मूल्य होते हैं. उनमें जरूरी  विटामिन और खनिज होते हैं जो कई प्रकार की बीमारियों से लड़ने में मदद करते हैं. नट्स (Nuts) यानी मेवे, से हम सभ अच्छी तरह वाकिफ हैं. डाइट में नट्स बेहद अहम रोल निभाते हैं. सबसे अच्छी बात यह है कि इन्हें कभी-भी और कहीं भी खाया जा सकता है. इन्हें पकाने का कोई झंझट नहीं. बस जेब से निकाले और खा लिए और पल में आपको मिल जाते हैं सेहत के लिए जरूरी कई तत्व. अगल-अलग मेवे यानी ड्राई फ्रूट में अलग-अलग गुण होते हैं, तो साचिए अगर आपने मुट्ठी भर नट्स खाएं हैं तो यह आपको काफी एनर्जी दे सकते हैं. क्या आपको पता है कि किस ड्राईफ्रूट में कितने पौषक तत्व होते हैं और यह किस चीज में फायदेमंद होते हैं. यहां जानिए ड्राईफ्रूट्स खाने के फायदों के बारे में... 

Weight Loss: सुबह की ये गलतियां पड़ सकती हैं भारी, होंगे ये नुकसान, रहें सावधान!

ड्राईफ्रूट के फायदे और गुण 

1. दिमाग को तेज करेगा काजू

काजू का फ्लेवर न सिर्फ क्रीमी होता है, बल्कि दूसरे नट्स के मुकाबले इनमें फैट भी कम होता है. इसमें 82 प्रतिशत फैट, अनसैचुरेटिड फैटी एसिड होता है और इसमें से 66 प्रतिशत अनसैचुरेटिड फैटी एसिड स्वस्थ दिल के लिए मोनोअनसेचुरेटिड फैट होता है. इसके अलावा, काजू में पाए जाने वाले फैट के तत्व ‘अच्छा फैट' माने जाते हैं. नट्स में पाए जाने वाले सैचुरेटिड, मोनोअनसैचुरेटिड और पोली अनसौचुरेटिड फैट के उपयुक्त अनुपात की वजह से ऐसा होता है. शोधकर्ताओं का कहना है कि श्रेष्ठ हेल्थ के लिए यह आदर्श अनुपात है.



Weight Loss: ये 5 चीजें तेजी से घटाएंगी आपका मोटापा! इस तरीके से खाएं...

Dry Fruits: काजू में दूसरे नट्स के मुताबिक फैट कम होता है



काजू आयरन, मैग्नीशियम और जिंक का अच्छा स्रोत है. आयरन कोशिकाओं में ऑक्सिजन पहुंचाने का काम करता है, जो कि अनीमिया  से बचाता है. वहीं, जिंक प्रतिरक्षा स्वास्थ और हेल्द की दृष्टि से महत्वपूर्ण है. मैग्नीशियम याददाश्त सुधारने में मदद करता है और बढ़ती उम्र में खोने वाली याददाश्त से बचाता है.



2. पिस्ता भी फायदेमंद

एक पिस्ते में चार से भी कम कैलोरी होती है. इनमें एल-आर्जीनिन होता है, जो आपकी आर्ट्रीज की परत को और लचीला बना देती है, जिससे ब्लड क्लॉटिंग के विकास की संभावना कम हो जाती है, जो हार्ट अटैक का कारण बन सकता है. इसमें पाया जाने वाला विटामिन ई बॉडी के लिए जरूरी है. दिन में पांच से सात पिस्ता खाना हेल्थ के लिए अच्छा रहता है. यह विटामिन बी-6 के लिए डेली वैल्यू का 25 प्रतिशत, थिआमिन और फासफोरस के लिए डेली वैल्यू का 15 प्रतिशत और मैग्नीशियम के लिए डेली वैल्यू का 10 प्रतिशत होता हैं. आप इन्हें सलाद में डाल सकते हैं या फिर अगली बार पेस्टो सॉस बना सकते हैं.




3. बादाम खाने के भी कई लाभ

यह हाई फैट फूड क्या आपकी हेल्थ के लिए अच्छा है? इनमें मोनोअनसैचुरेटिड फैट का स्तर हाई होता है, जो कि हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में सहायक है. दूसरे नट्स के मुकाबले इसमें सबसे ज़्यादा फाइबर होता है, एक औंस में तीम ग्राम के लगभग. यही नहीं, यह विटामिन ई से भरपूर होता है, जो कि एक शाक्तिशाली एंटी-ऑक्सीडेंट है.





साथ ही, शानदार तरीके से बादाम से वज़न भी घटाया जा सकता है. एक अध्ययन के अनुसार, “ वज़न कम करने के दौरान बादाम से परहेज करने वालों के मुकाबले, जो लोग इन्हें अपने प्लान में शामिल करते हैं, उनका वज़न ज़्यादा घटता है." दूसरे शोधकर्ताओं के मुकाबले, “जो लोग अपने ब्लड शुगर को लेकर चिंतित रहते हैं, बादाम ख़ासतौर से उन लोगों के लिए हेल्दी होते हैं. इसके साथ ही, यह आंत के लिए अच्छे होते हैं और कहा जाता है कि यह प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत रखते हैं."



Health Tips : आयुर्वेद के ये 5 टिप्‍स रखेंगे हर बीमारी को दूर!


Dry Fruits: बादाम हार्ट अटैक के खतरे को कम करने में मददगार है

जलन से लड़ते हैं अखरोट


हेल्दी अनसैचुरेटिड फैट से भरपूर रहने का यह सबसे आसान तरीका है. बहुत से शोधकर्ताओं का कहना है कि अपनी डाइट में इन्हें शामिल करने से समय के साथ आपका वज़न भी कंट्रोल रहता है.





यह एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं, जो कि कोशिकाओं को नुकसान, हार्ट संबंधी बीमारियां, कैंसर, जल्दी बुढ़ापा आ जाना जैसी समस्याओं से बचाने में मदद करते हैं. यही नहीं, इनमें ओमेगा 3 फैटी एसिड भी काफी मात्रा में होता है, जो कि आपकी बॉडी के लिए अच्छा होता है.

एक से दो अखरोट नियमित रूप से खाए जा सकते हैं. यह कमाल के नट्स अपने मील में जरूर शामिल करें, साबूत अनाज में इन्हें काट के इस्तेमाल कर सकते हैं या फिर शहद और दालचीनी के साथ अखरोट को ब्लैंड कर के अखरोट का मक्खन भी बनाया जा सकता है.




मूंगफली रखे दिल का ख़्याल

आपको बाजार में कई तरह की मूंगफली मिल जाएंगी- फ्लेवर से लेकर मसालेदार. साथ ही, इनका पोषक महत्व अलग होता है. वहीं, हम से बहुत से लोग मूंगफली का मक्खन पसंद करते हैं. इन्हें बाजार से खरीदने के साथ-साथ घर पर भुनी हुई मूंगफली और शहद से बनाया जा सकता है.


Benefits Of Dry Fruits: आपको बाजार में कई तरह की मूंगफलियां मिल जाएंगी




मूंगफली में मोनोएनसैचुरेटिड फैट भरपूर मात्रा में होता है. मूंगफली पर हुए ख़ास अध्ययन से पता लगा है कि यह एक छोटी-सी फली स्वस्थ दिल के लिए बहुत सहयोगी है. इसके अलावा, यह विटामिन ई, फोलेट और मैग्नीज़ का बड़ा स्रोत है. इसमें 22 प्रतिशत एंटी-ऑक्सीडेंट होता है, जो प्रतिरक्षा प्रणाली को बूस्ट करने में सहायक है और आपको दिल की बीमारियों से दूर रखता है. लेकिन, इन्हें सही मात्रा में खाना जरूरी है. हेल्दी सर्विंग के लिए आठ से दस मूंगफली खाई जा सकती हैं. इन्हें अपने खाने में डाल सकते हैं. साथ ही, सलाद में ऊपर से डालकर या नटी फ्लेवर के लिए मूंगफली के तेल को ऊपर से डालकर खाया जा सकता है. उबली हुई सब्जियों के साथ भुनी हुई मूंगफली एक अच्छा विकल्प है.





कैसे करें नट्स का सेवन | How To Consume Nuts

अब एक नजर ड़ालते हैं कि आप नट्स से किस तरह लाभ पा सकते हैं और इस लाभ को उठाने के लिए उसे किस, किस तरह खा सकते हैं. नट्स के साथ मिलाकर स्वादिष्ट सलाद बनाया जा सकता है या फिर भारतीय खानों की क्रीमी करी में काजू के पेस्ट से टेस्टी बनाया जा सकता है. कुछ लोग अपने दिन की शुरुआत एक कप दही के साथ करते हैं, जिसमें एक मुट्ठी कटे हुए बादाम ऊपर से डालकर खाते हैं. इससे टेस्ट तो बढ़ता ही  है, साथ ही उसमें पोषक तत्वों की मात्रा भी बढ़ जाती है. वैसे, एनर्जी लेवल को बढ़ाने के लिए एक बड़ा गिलास बादाम का शरबत भी काफी है.यह सही है कि मील में नट्स शामिल करने से खाने को हेल्दी और स्वादिष्ट बनाया जा सकता है- यह एनर्जी का पावरहाउस, फाइबर से भरपूर, प्रोटीन्स, मिनरल्स और अनसैचुरेटिड फैट से भरपूर होते हैं. हालांकि, असंख्य लाभ के बावजूद, बहुत से लोग इन्हें खाने से डरते हैं क्योंकि उन्हें यह भ्रम होता है कि नट्स में कैलोरी होती है. 






और खबरों के लिए क्लिक करें.







Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com





Comments

Winter Diet: सर्दियों में इन 5 चीजों को खाने से नहीं होंगे बीमार! आपके किचन में है सेहत का ये खजाना



NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement