क्या सचमुच Curd Rice खाने से ही आप बन सकते हैं खुशम‍िजाज! यहां है जवाब

NDTV Food  |  Updated: April 18, 2019 11:26 IST

Reddit
Eating Curd Rice Makes You A Happy Person, Seriously | Dahi ke fayde
Highlights
  • दही चावल खाने से आपको संतुष्टि का अनुभव होता है
  • ट्रायप्टोफन, दही में मौजूद एक बेहद जरूरी अमीनो एसिड
  • ट्रायप्टोफन और कार्ब्स का मिश्रण शांति का अनुभव कराता है

Eating Curd Rice Makes You A Happy: उत्तर भारत में पले-बढ़े होने के कारण दही-चावल से मेरा कभी कोई खास नाता नहीं रहा और 20 की उम्र के बाद तक भी मुझे कभी इसे खाने का मौका नहीं मिला. लेकिन कुछ समय बाद अमेरिका जाने का मौका मिला और अपने कुछ दक्षिण भारतीय साथियों की बदौलत मुझे दही चावल खाने का पहली बार अवसर प्राप्त हुआ. और वो ऐसा था जैसे 'लव एट फर्स्ट टेस्ट.' और इसी के साथ मैं भी उन लाखों लोगों के बीच का हिस्सा बन गया जो इसे बड़े चाव से खाते हैं. दही चावल खाने से आपको संतुष्टि का अनुभव होता है. इसका सेवन शांतिदायक है और कभी-कभी नींद लाने में भी सहायक है. आइए जानते हैं कि आखिर क्यों दही चावल हमें तृप्ति, शांति और संतुष्टि का अनुभव कराता है.



curd riceदही में मौजूद एक बेहद जरूरी अमीनो एसिड.

ऐसा करने में सबसे पहला जो सहायक कारक है वो है ट्रायप्टोफन, दही में मौजूद एक बेहद जरूरी अमीनो एसिड. ये हमारी बॉडी के द्वारा नहीं बनाया जाता इसलिए इसे हमें आहार द्वारा ही इसे अपने शरीर में भेजना होता है. 


क्या है ट्रायप्टोफन (Tryptophan) 

ट्रायप्टोफन हमारे शरीर में सेरोटोनिन नामक एक केमिकल बनाने का काम करता है। ये सेरोटोनिन हमारे शरीर के लिए याद्दाश्त से लेकर पाचन क्रिया ठीक करने तक कई कार्य करता है. सेरोटोनिन एक नेचुरल मूड रेगुलेटर की तरह भी काम करता है जोकि हमें खुशी का अनुभव कराता है. इसके अलावा यह केमिकल हमें भावानात्मक रूप से स्थिर बनाने के साथ-साथ कम चिंताजनक, और अधिक शांत बनाता है. सेरोटोनिन के कम होने की स्थिति में अवसाद के बढ़ने आशंकाएं बढ़ जाती हैं. 





curdदही चावल खाने के बाद हम आलस महसूस करते हैं

सेरोटोनिन को मेलाटोनिन नामक केमिकल का अग्रदूत माना जाता है जोकि की नींद के लिए उत्प्रेरक केमिकल है. यही कारण है कि दही चावल खाने के बाद हम आलस महसूस करते हैं. 

सेरोटोनिन हमारा ब्लडब्रेन बैरियर को नहीं लांघ सकता तो इसके लिए जरूरी है कि इसका उत्पादन हमारे दिमाग में ही हो. यही अपना रोल प्ले करता है चावल. ऐसे बहुत सारे व्यंजन हैं जो ट्रायप्टोफन का निर्माण करते हैं लेकिन हमारा दिमाग को कार्ब्स की जरूरत होती है ट्रायप्टोफन से सेरोटोनिन बनाने के लिए. 

Garam Masala Benefits: मसालों का यह लजीज मेल आपकी सेहत के लिए भी है फायदेमंद

curd riceट्रायप्टोफन के फायदों को अच्छे से भुनाने के लिए सबसे बेहतर उपाय है.

ट्रायप्टोफन के फायदों को अच्छे से भुनाने के लिए सबसे बेहतर उपाय है उसके साथ कॉमप्लेक्स कार्बोहाइड्रेट्स को उसके साथ मिला देना. रिचर्ड वुर्टनेम, एमडी द्वारा किए गए एक व्यापक शोध से ये बात सामने आई है कि ट्रायप्टोफन तभी आपके दिमाग तक पहुंच सकता है जब आप स्ट्राच वाले कार्बोहाइड्रेट्स का सेवन करते हैं. कार्ब से भरपूर आहार शरीर में इंसुलिन के उत्पादन को बढ़ावा देता है जोकि ब्लड स्टीम से दूसरे अमीनो एसिड को साफ करता है ताकि दिमाग ट्रायप्टोफन को अनुमति दे सके. इसलिए जब हम उदास या दुखी होते हैं तो मीठे खाने की तरफ भागते हैं.


Soups For Weight Loss: वेट लॉस प्रोग्राम में इन रेसिपी को जरूर एड करना चाहेंगे आप

curd riceहम दही चावल खाने के बाद खुशी महसूस करते हैं.


तो ये दही में मौजूद ट्रायप्टोफन और चावल में मौजूद कार्ब्स का मिश्रण हैं जिसकी वजह से हम दही चावल खाने के बाद खुशी महसूस करते हैं.

और घरेलू नुस्खों के लिए क्लिक करें.

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement