Sesame Seeds For Diabetes: ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करेंगे तिल, जानें तिल के फायदे

Sesame Seeds For Type 2 Diabetes: डायबिटीज क्या है? अगर आप भी यही सोच रहे हैं तो बता दें कि असल में डायबिटीज या मधुमेह उस स्थिति को कहा जाता है जब शरीर में ब्लड शुगर का स्तर बढ़ जाता है. ऐसा तब होता है जब शरीर इंसुलिन हार्मोन का निर्माण या तो कम करने लगता है या फिर बिलकुल ही बंद कर देता है.

Translated By: Anita Sharma  |  Updated: January 17, 2019 16:49 IST

Reddit
Sesame Seeds For Type 2 Diabetes: Sardiyon mein blood sugar levels ko control karega til, til ke fayde

Sesame Seeds For Type 2 Diabetes: डायबिटीज क्या है? अगर आप भी यही सोच रहे हैं तो बता दें कि असल में डायबिटीज या मधुमेह उस स्थिति को कहा जाता है जब शरीर में ब्लड शुगर का स्तर बढ़ जाता है. ऐसा तब होता है जब शरीर इंसुलिन हार्मोन का निर्माण या तो कम करने लगता है या फिर बिलकुल ही बंद कर देता है. ऐसा तब भी होता है जब शरीर ब्लड शुगर (blood sugar) को सही तरह से इस्तेमाल नहीं कर पाता. पहली स्थिति को टाइप 1 डायबिटीज (Type 1 diabetes) कहा जाता है, तो दूसरी स्थिति को टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 diabetes) के नाम से जाना जाता है. डायबिटीज के मरीजों (Patients of diabetes) को अपने नियमित आहार को लेकर बहुत ही सजग रहने की जरूरत है. कुछ भी ऐसा जो बहुत ज्यादा मीठा हो या बहुत ज्यादा कैलोरी वाला हो ब्लड शुगर लेवल को बढ़ाने या हाइपरग्लासेमिया (Hyperglycemia) की स्थिति लाने का काम कर सकता है. इसके नतीजतन थकान, कमजोरी और दूसरे कई तरह के स्वास्थ्य संबंधी परेशानियां सामने आ सकती हैं. ज्यादातर डायबिटीज या मधुमेह के मरीजों (Diabetes patients) को संतुलित आहार लेने की सलाह दी जाती है. ऐसा करने से आप ब्लड शुगर लेवल में अचानक से होने वाले उछाल को रोक सकते हैं. तो सर्दियों में डायबिटीज को कंट्रोल करने के लिए बहुत से आहार (food that may help diabetics during winters) हैं. इन्हीं में से एक है तिल या सीसम सीड (Sesame seeds).





तिल का इस्तेमाल कई भारतीय व्यंजनों में किया जाता है. तिल के लड्डू और गजक तो बहुत ही ज्यादा मशहूर हैं. सर्दियों के मौसम में तिल का इस्तेमाल खूब किया जाता है. इसकी वजह है कि तिल की तासीर गर्म होती है, तो यह शरीर को ठंड से बचाकर रखता है. इसके साथ ही साथ तिल सर्दी के मौसम में ऊर्जा देने का काम भी करते हैं. तिल में विटामिन ई और कई एंटीऑक्सिडेंट्स होते है. इनमें लिगनैंस भरपूर मात्रा में पाया जाता है. ये सभी तत्व टाइप 2 डायबिटीज़ के लिए बेहद फायदेमंद हैं. यह ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में भी मददगार है. चलिए जानते हैं कैसे- 



sesame seeds help in dealing with bronchitisSesame Seeds for Diabetes: तिल के बीज (Sesame seeds) में प्रोटीन और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है.

 

तिल के बीज से जुड़े घरेलू नुस्खे जो टाइप 2 डायबिटीज में दिलाएंगे राहत (Sesame Seeds To Remedy Symptoms Of Type 2 Diabetes)

तिल के बीज (Sesame seeds) में प्रोटीन और फाइबर भरपूर मात्रा में होता है. दोनों ही बेहद जरूरी पोषक तत्व हैं. ये दोनों ही भूख को नियंत्रित करने के काम आते हैं और बार-बार कुछ उल्टा सीधा खाने से बचाते हैं. यूएसडीए के अनुसार 100 ग्राम तिल के बीजों में 12 ग्राम फाइबर और 18 ग्राम प्रोटीन होता है. इसका सीधा सा मतलब यह है कि इन्हें खाने से खून में ग्लूकोज लेवल को अचानक से नहीं बढ़ता. इसके साथ ही साथ तिल के बीजों में मैग्नेशियम भी काफी मात्रा में होता है. 100 ग्राम तिल में 351मिलीग्राम मैग्नेशियम होता है. बहुत ज्यादा डायबिटीज के मरीजों में मैग्नेशियम की कमी (Deficiency of magnesium) की समस्या होती है. बहुत ज्यादा ब्लड ग्लूकोज लेवल बार बार पेशाब आने की समस्या को जन्म दे सकता है, जिससे शरीर के मिनरल्स बाहर निकल जाने की संभावना बढ़ जाती है. 



मैग्नेशियम की कमी सर्दियों में बड़ी समस्या बनकर उभर सकती है. यह सामान्य ब्लड सर्कुलेशन को प्रभावित कर सकता है. इसके साथ ही साथ तिल ब्लड शुगर लेवल को कम करने में भी मददगार हैं. आप रोस्टिड तिल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं. आप चाहें तो तिल के लड्डू भी आहार में शामिल कर सकते हैं.

और खबरों के लिए क्लिक करें.

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement