जानें नवरात्रि के तीसरे दिन का महत्व, देवी चंद्रघंटा को किसका लगाएं भोग

इन दिनों हम सभी नवरात्रि का पावन पर्व मनाने में व्यस्त हैं. 17 अक्टूबर से शुरू नवरात्रि का तीसरा दिन मां चंद्रघंटा को समर्पित होता है.

   |  Updated: October 19, 2020 15:42 IST

Reddit
navratri 2020: 3rd day significance try these amazing recipes for bhog
Highlights
  • नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की अराधना की जाती है.
  • चंद्रघंटा देवी के इन्हीं रूपों में से एक है.
  • इनके माथे पर घंटे के आकार का अंर्धचंद्र होता है.

इन दिनों हम सभी नवरात्रि का पावन पर्व मनाने में व्यस्त हैं. 17 अक्टूबर से शुरू नवरात्रि का तीसरा दिन मां चंद्रघंटा को समर्पित होता है. नवरात्रि के नौ दिनों में मां दुर्गा के नौ रूपों की अराधना की जाती है, चंद्रघंटा देवी के इन्हीं रूपों में से एक है. नवरात्रि का पर्व देवी के विभिन्न शक्ति पहलुओं को याद के रूप में मनाया जाता है. इनके माथे पर घंटे के आकार का अंर्धचंद्र होता है, जिसकी वज​ह से इन्हें चंद्रघंटा कहा जाता है. माना जाता है कि नवरात्रि के ​तीसरे दिन मां चंद्रघंटा की कृपा से भक्तों के समस्त कष्ट और बांधाएं समाप्त हो जाती हैं.

शेर पर सवार चंद्रघंटा का स्वरूप तेज भरा होता है. इनकी दस भुजाओं में कमल, कमंडल, तलवार और गदा जैसे शस्त्र हैं. मां चंद्रघंटा की उत्पति दुष्टों का संहार करने के लिए हुई थी, देवी को घंटों का स्वर बहुत ही प्रिय है तो इसलिए ऐसा माना जाता है पूजा करते वक्त घंटा बजाने से नकारात्मक ऊर्जा दूर होती है. इसके अलावा देवी चंद्रघंटा को लाल रंग काफी भाता है. भोग में इन्हें दूध और दूध से बनी चीजें अर्पित कर सकते हैं.

Newsbeep

जानिए क्या हैं कुट्टू के आटे के फायदे, नवरात्रि में इस बार बनाएं ये पांच बेहतरीन व्यंजन

वहीं जो लोग नवरात्रि का उपवास कर रहे हैं वे चाहे तो देवी मां को स्वादिष्ट मखाना खीर का भोग लगा सकते हैं और उन्हें प्रसन्न कर सकते हैं ताकि उनपर उनकी कृपा हमेशा बनी रहे. इसके अलावा आप व्रत के दौरान इन खास व्यंजनों को भी ट्राई कर सकते हैं.

qdvtotn8

व्रत में बनाई जाने वाली ये बेहतरीन रेसिपीज़ देखें:

नारियल की बर्फी

वैसे तो यह एक लोकप्रिय भारतीय मिठाई है आप चाहे तो इसे व्रत में भी बनाकर खा सकते हैं. नारियल की बर्फी नारियल, खोया, घी और चीनी से तैयार की जाती है. इसे बनाना काफी आसान है आप सिर्फ पांच चीजों से ही घर पर इस पारंपरिक मिठाई को बना सकते हैं.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

साबूदाना खीर  

साबूदाना खीर बनाने में ज्यादा झंझट नहीं है. इसे सिर्फ साबूदाना, दूध, चीनी, इलाइची और केसर से बनाया जाता है. ऐसा नहीं है कि साबूदाना खीर को व्रत के दौरान ही खाया जा सकता है. अगर अचानक आपका कभी मीठा खाने का मन करे तो भी आप इस खीर को बनाकर खा सकते हैं.

साबुदाना वड़ा 

साबुदाना वड़ा नवरात्रि के लिए बहुत ही अच्छा विकल्प है जिसे आप नारियल की चटनी या फिर आलू की सब्जी के साथ खा सकते हैं. इस बार नवरात्रि व्रत के दौरान आप साबुदाना वड़ा ट्राई करें. साबुदाने में उबले हुए आलू मिलाया जाता है साथ ही इसमें मसाले डाले जाते हैं. इसके बाद इसके वड़े तैयार करके डिप फ्राई किए जाते हैं.

Comments

NDTV Food Hindi से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें Facebook पर ज्वॉइन और Twitter पर फॉलो करें... साथ ही पाएं ताजा फूड खबरें , चटपटे जायके, हेल्थ टिप्स, ब्यूटी के कारगर नुस्खे और टिप्स और फूड एंड ड्रिंक से जुड़ी खबरें भी.

Advertisement
ताजा लेख
Advertisement